50 करोड़ कैश, आधे-आधे किलो के 6 कंगनः एक क्लिक में पढ़ें अर्पिता के काले खजाने से अब तक क्या-क्या मिला?

कोलकाताः लगातार ईडी द्वारा चलाये जा रहे छापों केे बाद से पाथ मुखर्जी और अर्पिता सुखिर्यां बटोर रहे हैं। कोई अर्पिता को धन कन्या कह रहा है, तो कोई कैश क्वीन और ऐसे नाम दिये इसलिये जा रहे हैं क्योंकि छापों में जिस तरह से उनके घर में 500-2000 के नोटों के बंडल मिल रहे हैं, सभी देखकर भौचक्के हैं। ईडी ने अब तक अर्पिता मुखर्जी के ठिकानों से 50 करोड़ रुपए बरामद किए हैं। इतना ही नहीं बुधवार को हुई छापेमारी में ईडी को 4.30 करोड़ रुपए का गोल्ड भी मिला है। इसमें आधा-आधा किलो के 6 कंगन भी शामिल हैं। आईए जानते हैं अभी तक अर्पिता मुखर्जी के ठिकानों से ईडी को क्या क्या मिला है?

पहले दिन की रेड में क्या क्या मिला?
ईडी ने 23 जुलाई को अर्पिता के फ्लैट पर छापा मारा था। इस दौरान ईडी को करीब 21 करोड़ रुपए कैश मिला था। इतना ही नहीं ईडी ने अर्पिता के घर से 20 मोबाइल और 50 लाख रुपए की ज्वैलरी भी बरामद की थी। ईडी को अर्पिता के घर से करीब 60 लाख की विदेशी करेंसी भी मिली थी। इसके बाद ईडी ने अर्पिता मुखर्जी को गिरफ्तार किया था।

पूछताछ में जिक्र किया

ईडी की पूछताछ में अर्पिता मुखर्जी ने अपनी कुछ और संपत्तियों का जिक्र किया था। इनमें से में एक कोलकाता के बेलघरिया स्थित फ्लैट भी था। ईडी इस फ्लैट में दरवाजा तोड़कर दाखिल हुई, इसके बाद अर्पिता के घर के टॉयलेट में जो कुछ मिला, उसे देखकर ईडी के अफसर भी हैरान रह गए। ईडी को अर्पिता के घर से 27.9 करोड़ रुपए कैश मिला है। इसमें 2000 रुपए और 5000 रुपए के नोटों के बंडल थे। बताया जा रहा है कि नोटों को 20-20 लाख और 50-50 लाख के बंडल बनाकर रखा गया था। अगर दोनों दिन की कार्रवाई के दौरान कैश मिला लिया जाए तो यह करीब 50 करोड़ (48.9 करोड़) रुपए हो जाता है।

4.31 करोड़ रुपए का गोल्ड मिला
अर्पिता मुखर्जी के दूसरे फ्लैट से बुधवार को ईडी को बड़ी मात्रा में गोल्ड भी मिला। ईडी के मुताबिक, छापेमारी के दौरान 4.31 करोड़ रुपए का गोल्ड मिला है। इसमें 1-1 किलो की 3 सोने की ईंटें, आधा आधा किलो के 6 सोने के कंगन और अन्य ज्वेलरी शामिल है। इतना ही नहीं इस ठिकाने से एक सोने का पैन भी मिला है।
कैसे ईडी के हाथ लगा खजाना?
दरअसल, ईडी ने शिक्षक भर्ती घोटाले से जुड़े मामले में हाल ही में पश्चिम बंगाल में ममता सरकार में मंत्री पार्थ चटर्जी के ठिकानों पर छापे मारे थे। इस दौरान ईडी को पार्थ चटर्जी के घर से कुछ पर्चियां मिली थीं। इनमें वन सीआर अर्पिता, फॉर सीआर अर्पिता लिखा था। इससे ही ईडी को अंदाजा लग गया था कि अर्पिता मुखर्जी के पास कैश रखा गया है। इसके बाद ईडी ने अर्पिता मुखर्जी के यहां छापेमारी की और कैश बरामद किया। ईडी सूत्रों के मुताबिक, 23 जुलाई की कार्रवाई के दौरान एजेंसी को अर्पिता के घर से काली डायरी भी मिली थी। बताया जा रहा है कि ये डायरी बंगाल सरकार के Department of Higher And School Education की है। इस डायरी में 40 पन्ने ऐसे हैं, जिनमें काफी कुछ लिखा हुआ है। यह डायरी एसएससी स्कैम घोटाले की कई परतें खोल सकती है।
अर्पिता का कबूलनामा
माना जा रहा है कि पार्थ चटर्जी की मुसीबत इसलिए भी ज्यादा बढ़ सकती है क्योंकि पूछताछ में अर्पिता ये स्वीकार कर चुकी हैं कि घर में बरामद हुआ कैश पार्थ का है। यहां तक दावा हुआ है कि पैसों को अर्पिता मुखर्जी से जुड़ी कंपनियों में लगाने की योजना थी। नकद राशि भी एक-दो दिन में उसके घर से बाहर ले जाने की तैयारी थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

आमिर खान और सलमान खान के बाद तिरंगे के साथ दिखे शाहरुख खान

मुंबईः 15 अगस्त को भारत को आजादी के 75 साल पूरे होने जा रहे हैं। ऐसे में भारत सरकार ने 'हर घर तिरंगा' कैम्पेन शुरू आगे पढ़ें »

ऊपर