माध्यमिक के लिए 50 : 50 सूत्र, एचएस के लिए 40 : 60 सूत्र से मिलेंगे अंक

माध्यमिक का 9वीं का वार्षिक और 10वीं की इंटरनल परीक्षा के आधार पर होगा रिजल्ट
उच्च माध्यमिक के लिए 2019 की माध्यमिक और 11वीं की प्रैक्टिकल व प्रोजेक्ट के आधार पर होगा रिजल्ट
संतुष्ट न हुए तो दोबारा दे सकेंगे परीक्षा
23 जून तक स्कूलों को इसी आधार पर जमा करना होगा नंबर
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : माध्यमिक और उच्च माध्यमिक के नतीजे के लिए किस तरह अंकों का मूल्यांकन किया जाएगा, इसकी घोषणा शुक्रवार को पर्षद द्वारा कर दी गयी।
माध्यमिक को लेकर पर्षद की ओर से बताया गया कि 50 : 50 सूत्र के आधार पर अंकों का मूल्यांकन किया जाएगा। इसमें परीक्षार्थियों के लिए कक्षा 9 का रिजल्ट और 10वीं का इंटरनल परीक्षाफल दोनों का 50 : 50 अनुपात के आधार पर असेसमेंट होगा। हालांकि अगर कोई परीक्षार्थी मुल्यांकन के बाद अपने अंकों से असंतुष्ट होता है तो वह दोबारा परीक्षा दे सकता है जो स्थितियां सामान्य होने के बाद होंगी।
इसी तरह उच्च माध्यमिक के नतीजों के मूल्यांकन को लेकर पश्चिम बंग उच्च माध्यमिक शिक्षा पर्षद की सभापति डॉ. महुआ दास ने बताया कि परीक्षार्थियों के लिए 40 : 60 का फार्मूला लागू होगा। यहां साल 2019 में हुए माध्यमिक की परीक्षा में चार प्रमुख विषय में जिसमें सर्वोच्च अंक मिले हों उस पर 40 फीसदी और 2020 में 11वीं की परीक्षा (थ्योरी) में मिले नंबर पर 60 फीसदी नंबरों का एक साथ मूल्यांकन होगा। यहां भी अगर कोई परीक्षार्थी असंतुष्ट होता है तो वह दोबारा लिखित परीक्षा दे सकता है जिसके रिजल्ट में मूल्यांकित हुए नंबरों को नहीं जोड़ा जाएगा। डॉ. महुआ दास ने बताया कि समस्त स्कूलों के प्रधानाचार्यों को निर्देश दे दिया गया है कि वे 23 जून तक इसी आधार पर मूल्यांकन करके नंबर भेज दें तभी आगे की प्रक्रिया पूरी की जा सकेगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

एसिडिटी और जलन के कारण हो गए हैं परेशान तो अब अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

कोलकाता : खानपान में थोड़ी सी लापरवाही के कारण सीने में जलन और एसिडिटी की समस्या हो जाती है। इस समस्या से जब तक निजात आगे पढ़ें »

ऊपर