दुर्गोत्सव के दौरान 5 डॉक्टरों की कोरोना से मौत



कोलकाताः कोरोना वायरस महामारी के बीच फ्रंट लाइनर के तौर पर काम कर रहे डॉक्टर लोगों को बार-बार जागरूक रहने की सलाह दे रहे हैं। हालांकि दुर्गोत्सव के दौरान काफी लापरवाही भी कई जगहों पर नजर आई। इस अवधि में कोरोना वायरस के संक्रमण में आकर 5 डॉक्टरों की मौत हो गई। यह सभी राज्य के अलग-अलग जगहों पर प्रैक्टिस करते थे। बर्दवान के मेमारी के डॉ.दिलीप भट्टाचार्य, गायनोकोलॉजिस्ट, चित्तरंजन नेशनल मेडिकल कॉलेज व हॉस्पिटल के पूर्व मेडिसिन के डॉ. सुजन कुमार मित्रा, बीरभूम के सुरी के डॉ. अमल राय, बेहला के डॉ. शैबल दासगुप्ता, बारासात के डॉ. दिलीप कुमार विश्वास शामिल हैं। डॉ. शैबल दासगुप्ता की मौत कोलकाता मेडिकल कॉलेज व हॉस्पिटल में चिकित्सा के दौरान मंगलवार को हो गई। डॉ. अमल राय (56) की मौत भी कोलकाता मेडिकल कॉलेज व हॉस्पिटल में हो गई। वह मिदनापुर के निवासी थे।
राज्य में अब तक 63 डॉक्टरों की कोरोना से मौत
वेस्ट बंगाल डॉक्टर्स फोरम की ओर से डॉ.राजीव पाण्डेय ने बताया कि अब तक राज्य में कोरोना वायरस महामारी के दौरान फ्रंट लाइनर के तौर पर तैनात 63 डॉक्टरों की मौत कोरोना वायरस के संक्रमण से हो चुकी है। यह हम सबके लिए काफी चिंता का विषय है। जरूरत है कि लोग महामारी को हल्के में न लें। जागरूक रहें। भीड़ में मॉस्क अवश्य पहनें।
हाल में इन डॉक्टरोंकी हुई मौत

– डॉ. दिलीप भट्टाचार्य
– डॉ. सुजन कुमार मित्रा
– डॉ. अमल राय
– डॉ. शैबल दासगुप्ता
– डॉ. दिलीप कुमार विश्वास
शेयर करें

मुख्य समाचार

अमेरिकी अदालत ने इन दो एच-1बी नियमों पर रोक लगाई

वाशिंगटन : हजारों भारतीय पेशेवरों और शीर्ष अमेरिकी सूचना प्रौद्योगिकी कंपनियों को एक बड़ी राहत देते हुए एक अमेरिकी अदालत ने मंगलवार को ट्रंप प्रशासन आगे पढ़ें »

श्रीनिवास बीवी युवा कांग्रेस के पूर्णकालिक अध्यक्ष नियुक्त

नई दिल्ली : कांग्रेस की युवा इकाई के अंतरिम अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी को बुधवार को संगठन का पूर्णकालिक अध्यक्ष नियुक्त किया गया। पार्टी के संगठन आगे पढ़ें »

ऊपर