नकली दस्तावेजों के जरिये फार्मेसिस्ट लाइसेंस की व्यवस्था करने वाले 4 गिरफ्तार

गिरोह के अन्य सदस्यों की तलाश में जुटी पुलिस
बारासात के विभागीय अधिकारियों ने की थी शिकायत
बारासात : बारासात थाने की पुलिस ने प्रसादपुर ड्रग कंट्रोल विभाग में दवा दुकानों के लिए लाइसेंस व फार्मेस्ट के लाइसेंस लिए अप्लाई किये गये कुछ दस्तावेजों को नकली पाया गया था। आरोप है कि सोदपुर में एक दुकान की ओर से व बारासात से 3 और ऐसे ही आवेदन विभाग में आये थे जिसमें नकली दस्तावेजों को जमा किया गया था। ऐसे नकली दस्तावेजों को देखते हुए विभाग की पुलिस को सूचना दी गयी। वहीं पुलिस के सामने यह भी शिकायतें आयीं कि नकली दस्तावेजों को देने पर ही एक ​गिरोह रुपये लेकर लाइसेंस की व्यवस्था कर रहा है। इन शिकायतों पर पुलिस ने छानबीन किया और पाया कि वे गिरोह के सदस्य भी पुलिस की छानबीन के बारे में पता होने के बाद से अन्य जिलों में आश्रय लिये हुए हैं हालांकि बारासात थाने की पुलिस ने इसबीच गुरुवार की रात को खबर मिली कि उस​ गिरोह के सदस्य बारासात के नवपल्ली में कुछ काम के लिए आयेंगे इस पर अभियान चलाकर पुलिस ने 4 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया। अभियुक्तों विष्णु साहा, शुभंकर दास, प्रीतम कर्मकार व शुभजीत शर्मा मुख्य रूप से बीरभूम व मालदह के निवासी हैं। अभियुक्तों के पास से पुलिस ने कई नकली दस्तावेज, रुपये आदि बरामद किये हैं। बताया गया है कि नकली दस्तावेजों व लाइसेंस के इस रैकेट के अन्य सदस्यों की भी तलाश में पुलिस जुट गयी है। अभियुक्तों को शुक्रवार ही बारासात कोर्ट में पेश कर पुलिस ने ​हिरासत में लिया है। प्राथमिक छानबीन में जो बातें सामने आयी हैं वह काफी चौकाने वाली हैं क्योंकि यह गिरोह उन लोगों के लिए लाइसेंस की व्यवस्था कर रहा था जिनकी शिक्षागत योग्यता नहीं है यहां तक की वे अंग्रेजी भी ठीक से पड़ नहीं पाते हैं अतः इस स्थिति में यह लोगों के लिए कितना घातक हो सकता है, इसका हम सभी अंदाजा लगा ही सकते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

भवानीपुर में तृणमूल समर्थक के संदेह में दो कॉलेज छात्रों पर हमला

भाजपा पर लगा आरोप सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : सोमवार की रात तृणमूल समर्थक होने के संदेह में दो कॉलेज छात्रों की जमकर पिटायी कर दी गयी। घटना आगे पढ़ें »

ऊपर