3 सीटों पर हार : दिलीप घोष ने मानी खामियां

कहा – सीट नहीं बचा पाये, अनुभव की कमी थी वजह
एनआरसी के कारण नहीं पड़ा प्रभाव
ममता ने गलत प्रचार किया
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : राज्य की 3 विधानसभा सीटोें पर हुए उपचुनाव को लेकर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने अपनी खामियां मानी और कहा कि लोकसभा चुनाव में मिली सफलता को हम आगे नहीं बढ़ा पायें। उन्होंने कहा कि हम अपनी सीटें नहीं बचा पायें, अनुभव की कमी इसकी वजह है। यहां हम बताते चलें कि खड़गपुर सदर, कालियागंज और करीमपुर विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में सभी सीटों पर तृणमूल ने जीत हासिल की है। वहीं खड़गपुर सदर से दिलीप घोष खुद विधायक रहे और अब मिदनापुर से सांसद भी हैं, लेकिन इसके बावजूद वह अपनी सीट नहीं बचा पाये। इस पर दिलीप घोष ने कहा, ‘उपचुनावों में मिली हार के कारणों का हम विश्लेषण करेंगे। हमारे कार्यकर्ताओं में काफी उत्साह था, लेकिन हममें जागरूकता की कमी थी। इस कारण हम लोकसभा चुनाव की सफलता को कायम नहीं रख पाये।’ हालांकि दिलीप घोष ने यह भी कहा कि विधानसभा उपचुनाव लोकसभा के समान नहीं होते और जो सत्ता में होता है, अक्सर वही उपचुनाव जीतता है। उन्होंने यह भी कहा कि उपचुनाव के नतीजों का असर विधानसभा चुनाव में नहीं पड़ेगा। दिलीप घोष ने कहा, ‘हमारा लक्ष्य 2021 विधानसभा चुनाव के लिए तैयार होना है।’ नतीजों में एनआरसी का कोई असर पड़ा है या नहीं, इस पर दिलीप घोष ने कहा, ‘एनआरसी का कोई असर नहीं पड़ा। खड़गपुर में कहां एनआरसी था। एनआरसी पर ममता बनर्जी ने लोगों को गलत समझाकर आतंक का माहौल बनाया। अब हम लोगों तक जायेंगे और उन्हें नागरिकता बिल और एनआरसी के बारे में समझायेंगे। हर हिन्दू शरणार्थी को नागरिकता मिलेगी।’ खड़गपुर पर दिलीप घोष ने कहा कि वहां के 27 बूथों पर रिगिंग की गयी। शाम 5.30 बजे के बाद भी कई बूथों पर छप्पा वोट डाले गये। तृणमूल के लोग हमारे एजेंट बनकर बैठ गये थे और उन्होंने रिगिंग की रिपोर्ट हमें नहीं दी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कल्याणकारी योजना का लाभ दिए जाने में हुई गड़बड़ी शीघ्र होगी दूर : सीता सोरेन

दुमका : झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) की वरिष्ठ नेता और दुमका जिले में जामा की विधायक सीता सोरेन ने कहा कि पूर्व में अयोग्य लोगों आगे पढ़ें »

नक्सलियों को 15 लाख की लेवी देने जा रहा ठेकेदार गिरफ्तार

औरंगाबाद : बिहार में नक्सल प्रभावित औरंगाबाद जिले के अम्बावार तरी के निकट एक संदिग्ध वाहन से 15 लाख रुपये जब्त कर संवेदक समेत दो आगे पढ़ें »

ऊपर