दिलीप के प्रचार पर 24 घंटे का बैन

सायंतन बसु को किया शो-कॉज
कोलकाताः निर्वाचन आयोग ने गुरुवार की शाम भाजपा के पश्चिम बंगाल अध्यक्ष दिलीप घोष के विवादास्पद बयान के लिए उनके प्रचार करने पर 24 घंटे की पाबंदी लगा दी। घोष ने कहा था कि ‘‘कई जगहों पर शीतलकूची जैसी घटनाएं होंगी।’’ आदेश में कहा गया है कि निर्वाचन आयोग ने घोष को ‘‘कड़ी चेतावनी’’ दी है और उन्हें आदर्श आचार संहिता लागू होने के दौरान सार्वजनिक टिप्पणी करते समय इस तरह के बयान देने से परहेज करने की सलाह दी। पाबंदी 15 अप्रैल के शाम 7 बजे से 16 अप्रैल की शाम 7 बजे तक प्रभावी होगी। इस दौरान दिलीप घोष किसी प्रकार का प्रचार नहीं कर पाएंगे। चुनाव आयोग ने मंगलवार को घोष के कथित बयान के लिए उन्हें नोटिस जारी किया था। कूचबिहार जिले के शीतलकूची में मतदान के दौरान केंद्रीय बलों की गोलीबारी में चार लोगों की मौत के बाद घोष ने यह टिप्पणी की थी। तृणमूल कांग्रेस ने घोष के बयान के खिलाफ निर्वाचन आयोग का रुख किया था। नोटिस में घोष की कथित टिप्पणी का जिक्र किया गया है, ‘‘अगर कोई हद पार करेगा तो आपने शीतलकूची में देख लिया कि क्या हुआ। कई जगहों पर शीतलकूची जैसी घटना होगी।’’
दूसरी तरफ निर्वाचन आयोग ने भाजपा के नेता सायंतन बसु को एक चुनावी भाषण के दौरान कथित तौर पर ‘‘भड़काऊ’’ बयानबाजी के लिए गुरुवार को नोटिस भेजा और 24 घंटे के भीतर उन्हें स्पष्टीकरण देने को कहा है। बसु ने उत्तर 24 परगना के बरानगर में एक चुनावी भाषण दिया था। इस संबंध में आयोग को शिकायत मिली थी। आयोग की ओर से भेजे गए नोटिस के मुताबिक बसु के भाषण के कुछ अंश इस प्रकार हैं, ‘‘मैं, सायंतन बसु, आपको बताने आया हूं कि बहुत अधिक खेला खेलने की कोशिश मत करो। हम शीतलकुची का खेला खेलेंगे। आयोग ने कहा कि बसु के भाषण में आदर्श चुनाव चुनाव आचार संहिता, जनप्रतिनिधि अधिनियम और भारतीय दंड संहिता के प्रावधानों का उल्लंघन पाया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ताऊ ते का खतरा बढ़ा: कर्नाटक के 6 जिलों में असर, 4 की मौत

नई दिल्लीः गुजरात और महाराष्ट्र समेत पांच राज्यों पर अरब सागर में बन रहे चक्रवात 'ताऊ ते' का खतरा मंडरा रहा है। कर्नाटक के 6 आगे पढ़ें »

फेसबुक लाइव पर फफक पड़े महानगर के डॉक्टर, बोले- ‘आंखों के सामने…

कोलकाताः पूरा देश कोरोना वायरस की चपेट में है। हर तरफ से मौतों, इलाज न मिलने समेत कई ऐसी कहानियां और तस्वीरें सामने आ रही आगे पढ़ें »

ऊपर