पांचवें चरण में 20% करोड़पति उम्मीदवार

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : चुनावों पर निगरानी रखने वाली संस्था एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की एक रिपोर्ट के अनुसार पश्चिम बंगाल चुनाव के पांचवें चरण में किस्मत आजमा रहे कुल 318 उम्मीदवारों में से एक-चौथाई प्रत्याशियों ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज होने की घोषणा की है। वहीं 20% (65) करोड़पति उम्मीदवार हैं। पश्चिम बंगाल इलेक्शन वॉच और एडीआर ने सभी 319 में से 318 उम्मीदवारों के स्वघोषित हलफनामों का विश्लेषण किया है। डॉ. उज्जैनी हलीम ने बताया कि रिपोर्ट के मुताबिक, ‘‘318 उम्मीदवारों का विश्लेषण किया गया जिनमें से 79 (25 %) उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज होने की घोषणा की है और 64 (20 %) उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज होने की घोषणा की है।’’रिपोर्ट के अनुसार भाजपा के 45 में से 28 (62 %), तृणमूल कांग्रेस के 42 में से 18 (43 %), माकपा के 25 में से 10 (10 %) और कांग्रेस के 11 में से 2 (18 %) उम्मीदवारों ने अपने हलफनामों में अपने खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज होने की घोषणा की है। इसी तरह भाजपा के 45 में से 23 (51 %), तृणमूल कांग्रेस के 42 में से 16 (38 %), माकपा के 28 में से 7 (28 %) और कांग्रेस के 11 में से 1 (9%) उम्मीदवारों ने अपने हलफनामों में अपने खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज होने की घोषणा की है। रिपोर्ट कहती है कि एक उम्मीदवार ने बलात्कार से जुड़े मामले दर्ज होने की घोषणा की है, नौ उम्मीदवारों ने हत्या से जुड़े तथा 20 ने अपने खिलाफ हत्या के प्रयास से संबंधित मामले दर्ज होने की बात कही है। इसमें 182 यानी कि करीब 57% उम्मीदवार स्नातक या उससे अधिक हैं। वहीं 5वीं से 12वीं तक की शिक्षा वाले 125 यानी कि 39% उम्मीदवार हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

दो श्मशान और एक कब्रिस्तान बना रही है कोलकाता नगर निगम

कोविड शवों की बढ़ती संख्या बढ़ा रही है प्रशासन की परेशानी सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे है। इस आगे पढ़ें »

पत्नी ने ससुराल जाने से किया इनकार, हताश पति ने खुद को चाकू से गोदा

नदियाः पत्नी के विरह में पागल दिलीप दास (40) के साथ उसकी पत्नी ने ससुराल जाने से इनकार कर दिया। इस बात से दुःखी दिलीप आगे पढ़ें »

ऊपर