20 सवारियों के सहारे कैसे चलेगी बस, असमंजस में बस मालिक

आज कई बस संगठनों की बैठक
सन्मार्ग संवाददाता,कोलकाताः एक तरफ मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सभी बस मालिकों को लोगों के हित का ध्यान रखकर निजी बसों को उतारने के लिए कहा है। वहीं बस मालिकों का साफ कहना है कि 20 सवारियों के सहारे बस कैसे चलाई जा सकती है। इससे आमदनी तो होगी नहीं बल्कि खर्च और बढ़ जाएगा। ऐसे में बस मालिक किस प्रकार से बसों के रखरखाव, ड्राइवर व कंडक्टर का वेतन दे सकेंगे। अब बस संगठन एक बार फिर से इस सिलसिले में सोमवार को एक बैठक करेंगे। माना जा रहा है कि इसके बाद ठोस निर्णय बस के मुद्दे पर लिया जा सकता है। वेस्ट बंगाल मिनी बस ऑपरेटस को-ऑर्डिनेशन कमेटी के सचिव प्रदीप नारायण बोस ने कहा कि सोमवार को हम एक बैठक करेंगे। परिवहन विभाग से भी संपर्क किया जा रहा है।
कई जगहों पर ऑटो ने शुरू की परिसेवा
वहीं दूसरी ओर कई जगहों पर ऑटो यूनियनों ने बैठक करके धीरे-धीरे ऑटो की परिसेवा को शुरू करने का निर्णय किया है। इसी क्रम में कालीघाट के कुछ ऑटो रूट, एम.जी.रोड मेट्रो से कुछ दूरी तक की ऑटो परिसेवा रविवार को शुरू हुई है। हालांकि इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग सहित अन्य दिशा-निर्देशों का भी ध्यान दिए जाने की भी बात कही गई है।
बागुईआटी – उल्टाडांगा से जुड़े ऑटो यूनियन के सचिव विप्लब मोदक ने कहा कि अब ऑटो में केवल 2 यात्री ही बैठेंगे। हालांकि पहले 4 यात्री बैठते थे। हर यात्री को बैठते समय हाथों में सैनिटाइ​ज करना हाेगा। हम ऑटो किराये में कुछ वृद्धि चाहते हैं।
आज से इंटर डिस्ट्रिक्ट बसों के बढ़ने के आसार
वहीं दूसरी तरफ सोमवार से सरकारी बसों के बढ़ने के आसार हैं। हालांकि परिवहन विभाग के सूत्रों की मानें तो इंटर डिस्ट्रिक्ट बसों को मंगलवार से ही धीरे-धीरे बढ़ाया जाएगा। इस दौरान यात्री संख्या का भी ध्यान रखना होगा।साथ ही मास्क पहनने वाले यात्रियों को ही बस में उठाया जाएगा।
टैक्सी शुरू, सवारियां मिल रहीं कम
वहीं दूसरी ओर टैक्सी परिसेवा शुरू तो हो गई है, हालांकि सवारी फिलहाल कम ही मिल रही है। हालांकि सभी दिशा-निर्देशों का पालन करके टैक्सी ड्राइवर टैक्सी स्टैण्ड पर नजर आ रहे हैं। माना जा रहा है कि धीरे-धीरे सवारियां भी बढ़ने के आसार हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वेस्टइंडीज जीत के करीब, इंग्लैंड ने दूसरी पारी में 313 रन बनाए

साउथैम्पटन : इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में वेस्टइंडीज जीत की ओर है। मैच के पांचवें दिन टी ब्रेक तक मेहमान टीम ने 4 विकेट के आगे पढ़ें »

पगबाधा का फैसला सिर्फ और सिर्फ डीआरएस से हो : तेंदुलकर

नयी दिल्ली : महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अंपायरों के फैसलों की समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को ‘अंपायर्स कॉल’ को हटाने आगे पढ़ें »

ऊपर