12 राज्य अब भी पेट्रोल-डीजल पर वैट घटाने को तैयार नहीं, बंगाल भी इनमें शामिल

नई दिल्ली : इस साल जुलाई के बाद पहली बार, 15 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में गुरुवार से पेट्रोल (Petrol) 100 रुपये से नीचे पर बिक रहा है। लगभग पूरे देश में जुलाई के दूसरे सप्ताह के शुरुआत में ही पेट्रोल 100 रुपए तक पहुंच गया था।

अब बीजेपी और उसके सहयोगी दलों की सरकार वाले 15 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में पेट्रोल के दाम को 100 रुपए के नीचे लाया गया है। इसमें कर्नाटक, बिहार और मध्य प्रदेश और केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख शामिल नहीं हैं। यहां केंद्र और राज्य द्वारा टैक्स में कटौती के बावजूद पेट्रोल की कीमत 100 रुपये से ज़्यादा है।

दीवाली पर पेट्रोल की कीमतों में 5 और डीजल पर 10 रुपए की कटौती करने के केंद्र के फैसले ने महंगाई से जूझ रहे लोगों को काफी राहत दी है। पेट्रोल और डीजल के दामों में समान कटौती की घोषणा के साथ राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई हैं। देश के 16 राज्यों और 7 केंद्र शासित प्रदेशों ने वैट में कटौती करने का फैसला किया है, वहीं 12 राज्य और 1 केंद्र शासित प्रदेश यह कटौती करने के लिए तैयार नहीं हैं, क्योंकि ऐसा करने से इन्हें आर्थिक रूप से नुकसान पहुंचा सकता है।

जिन 13 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने पेट्रोल और डीजल में वैट में कोई कमी नहीं की है, वे हैं: शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस शासित महाराष्ट्र, आप शासित दिल्ली, टीएमसी शासित पश्चिम बंगाल, डीएमके शासित तमिलनाडु, टीआरएस शासित तेलंगाना, YSRCP शासित आंध्र प्रदेश, केरल, एनपीपी सत्तारुढ़ मेघालय, झामुमो शासित झारखंड, कांग्रेस शासन वाली छत्तीसगढ़, पंजाब, राजस्थान और अंडमान और निकोबार। ओडिशा एकमात्र ऐसा राज्य है जहां विपक्ष की सरकार है और जहां पेट्रोल और डीजल दोनों पर वैट में 3 रुपये प्रति लीटर की कमी की घोषणा की गई है।

उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गुजरात, हरियाणा, असम, चंडीगढ़, गोवा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, मिजोरम, नागालैंड, त्रिपुरा और पुडुचेरी में पेट्रोल 100 रुपए से कम कीमत पर बेचा जा रहा है। पेट्रोल और डीज़ल की कीमतों में कटौती करने से, बीजेपी और उसके सहयोगी दलों को राजनीतिक तौर पर फायदा होने की उम्मीद जताई जा रही है। बता दें कि अप्रैल 2020 में पेट्रोल ₹69 प्रति लीटर से थोड़ा ज़्यादा था और इस साल मार्च के अंत में ₹90 के स्तर को छू गया था।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

यमुना एक्सप्रेसवे पर भीषण हादसा: चार सिपाहियों सहित पांच की मौत

मथुराः मथुरा जनपद में यमुना एक्सप्रेसवे पर शुक्रवार को दर्दनाक हादसा घटित हो गया। इस हादसे में मध्य प्रदेश के चार पुलिसकर्मियों सहित पांच लोगों आगे पढ़ें »

ऊपर