हिंदुत्व के नाम पर बंगाल से मत टकराना – ममता

कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि हिंदुत्व के नाम पर बंगाल से टकराये नहीं क्योंकि तृणमूल के शासन में सबसे अधिक दुर्गापूजाएं हो रही हैं और हिंदू तीर्थ स्थानों के लिए सबसे अधिक काम हमने ही किया है। मंगलवार को सीएम ने चैतन्य महाप्रभु संग्रहालय का उद्घाटन करते हुए कहा कि उन्हें अपनी हिंदू पहचान दूसरों के समक्ष साबित करने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि ‘मैं उन लोगों की तुलना में अधिक संस्कृत शास्त्र जानती हूं जो मेरी आलोचना करते हैं और मेरी धार्मिक पहचान पर सवाल उठाते हैं। सीएम ने कहा कि बंगाल में धर्म के नाम पर भेदभाव नहीं होता है। उन्होंने कहा कि हमने यहां क्या नहीं किया है। छठ पूजा से लेकर गंगासागर का कर माफ। दक्षिणेश्वर स्काईवॉक से लेकर तारापीठ। जो कहते हैं कि दीदी बंगाल में दुर्गापूजा नहीं करने देती हैं वे देख लें कि दीदी के टाइम में ही लाखाें दुर्गापूजाएं होती हैं। घर – घर छठ पूजा होती है। उन्होंने कहा कि वे दिखावे के लिए कुछ नहीं करती हैं। वे सबको लेकर चलने में भरोसा करती हैं। उन्होंने कहा कि मंदिर में जाने से पहले अगर हिंदुत्व का परिचय देना पड़े तो ऐसे हिंदुत्व पर भरोसा नहीं करती, इससे अच्छा मर जाना है। बंगाल युग युग से सिखाता आया है कि हिंसा से नहीं शांति से आगे बढ़ना है। बंगाल की संस्कृति से ईर्ष्या करने वाले कान खोलकर सुन लें, बंगाल की संस्कृति को पूरे विश्व ने स्वीकारा है। इसलिए बंगाल को डराओ नहीं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

‘रिंकिया के पापा’ गाने के म्यूजिक डायरेक्टर धनंजय मिश्रा का निधन

नयी दिल्ली : 'रिंकिया के पापा' गाने के म्यूजिक डायरेक्टर धनंजय मिश्रा का निधन मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में हो गया है। धनंजय मिश्रा के आगे पढ़ें »

गुदगुदाती रोमांटिक फिल्मों के महारथी बासु चटर्जी नहीं रहे

मुंबई : बॉलीवुड में बासु चटर्जी का नाम एक ऐसे फिल्मकार के तौर पर याद किया जायेगा, जिन्होंने आम आदमी और मध्य वर्ग की थीम आगे पढ़ें »

ऊपर