हावड़ा में मछली व्यवसायी की गोली मारकर हत्या

छिनताई में असफल होने पर चलायी गोली
हावड़ा : हावड़ा में मछली व्यवसायी की गोली मारकर हत्या कर दी गयी। उक्त घटना ऋषि बंकिम सेतु पर घटी। मृतक का नाम तारक भुइयां है। वह कालीबाबू बाजार के पार्वती सिनेमा के निकट का रहनेवाला था। डीसी नार्थ अमित भरत कुमार राठौर के अनुसार 4 अभियुक्तों ने उसे घेर लिया और उस पर प्वाइंट ब्लैक रेंज से गोली चला दी। रक्तरं​जित अवस्था में उसे हावड़ा अस्पताल में भर्ती किया गया। उसके पेट में गोली लगी थी। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी। तारक के पास 4 से 5 हजार रुपये थे, जिसे छिनताईबाज छीनने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन व्यवसायी ने उन्हें रोकने की कोशिश की। तारक के भतीजे संजय का कहना है कि राेजाना की तरह तारक अपने घर कालीबाबू बाजार से मछली खरीदने के लिए मछली बाजार आ रहा था। तभी अहले सुबह 4 बजे कुछ अज्ञात छिनताईबाजों ने उसे घेर लिया। उन्होंने उससे रुपये की मांग की। उसने तुरंत इसका विरोध किया। विरोध करने पर ही उक्त घटना घटी। ये सारी घटनाएं वहां लगे सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गयीं। घटना को अंजाम देते ही अभियुक्त घटनास्थल से फरार हो गये।
घुसुड़ी में पुलिस पर चलायी गयी गोली
शुक्रवार की सुबह घटी घटना के बाद से ही पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए अ​भियुक्त की तलाश शुरू कर दी। इसमें गोलाबाड़ी, बेलूड़ व बाली थाना की पुलिस ने हावड़ा सिटी पुलिस के साथ मिलकर अभियान शुरू किया। दोपहर करीब 1.30 बजे अभियान के दौरान पुलिस घुसुड़ी इलाके में पहुंची। यहां पुलिस को सूत्रों से पता चला कि यहां एक छिनताईबाज छिपा है। इसकी तलाश में जैसे ही पुलिस घुसुड़ी पहुंची तभी उक्त अभियुक्त ने पुलिस पर गोलियां चला दीं। वहीं उसके जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग की लेकिन इस घटना में किसी के हताहत होने की को​ई खबर नहीं है। पुलिस के अनुसार सुबह घटी घटना में सीसीटीवी में जिस अभियुक्त का चेहरा कैद हुआ है, उसकी शक्ल छिनताईबाज से मिलती-जुलती है। पुलिस उसकी तलाश में जुट गयी है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टाला ब्रिज पर डायवर्सन के कारण 100 मिनी बसें चलाएगा परिवहन विभाग

वाहनों के डायवर्सन से यात्रियों को नहीं होगी समस्याः शुभेन्दु अधिकारी कोलकाताः टाला ब्रिज पर बस व भारी वाहनों की पाबंदी के बाद बड़े पैमाने पर आगे पढ़ें »

बीजीबी की कार्रवाई बेवजह, हमने नहीं चलाई एक भी गोलीः बीएसएफ

मुर्शिदाबादः बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) के जवानों ने बीएसएफ के जवान को लक्ष्य कर जानबूझकर चलायी थी गोली। यह मानना है सीमा पर तैनात बीएसएफ आगे पढ़ें »

ऊपर