हावड़ा में घरेलू नौकर में पाया गया कोरोना पॉजिटिव, 6 लोग क्वारंटाइन में गये

सबिता राय
सन्मार्ग संवाददाता,हावड़ा : हावड़ा में कोरोना को लेकर चिंता बढ़ती जा रही है। सीएम ममता बनर्जी ने खुद हावड़ा पर विशेष नजर देने के लिए कहा है। बुधवार को निश्चिंदा के षष्टीतल्ला इलाके में एक घर के नौकर में काेरोना वायरस मिला। जैसे ही यह रिपोर्ट मिली उस घर के सभी 6 लोगों को क्वारंटाइन सेंटर में भेज दिया गया। यह जानकारी मंत्री राजीव बनर्जी ने दी। उन्होंने बताया कि नौकर को सर्दी, खांसी और बुखार भी था। उसके बाद टेस्ट के लिए नमूना भेजा गया। रिपोर्ट मिलने के बाद पता चला कि वह कोरोना पॉजिटिव है। मंत्री ने बताया कि देर नहीं करते हुए उस व्यक्ति को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है, उन्होंने ने 6 लोगों को स्थानीय क्वारंटाइन सेंटर में भेज दिया गया है। जानकारी के मुताबिक वह व्यक्ति बिहार का रहने वाला है तथा करीब 30 सालों से उसी घर में काम करता आया है। जिस घर में काम करता है वह संभ्रांत परिवार है। हालांकि अभी तक विदेश सफर का कोई सम्पर्क सामने नहीं आया है,ऐसे कैसे वह नौकर इस वायरस से संक्रमित हुआ है इसे लेकर स्वास्थ विभाग चिंता में डाल दिया है। हालांकि वह व्यक्ति बाजार हाट भी जाता है। क्या इस दौरान वह संक्रमित हुआ है, इस विषय पर नजर दिया जा रहा है।
75 हजार घरों को सैनेटाइज करने का काम शुरू
हावड़ा में कोरोना वायरस ने फैले इसके अगले कुछ दिनों में डोमजूर इलाके के 75 हजार घरों को सैनेटाइज किया जाएगा। स्थानीय विधायक और मंत्री राजीव बनर्जी ने बताया कि बुधवार से ही उनके क्षेत्र में घरों को सैनेटाइज करने का काम शुरू हो गया है। घरों के साथ ही बाजारों व विभिन्न इलाकों में भी स्प्रे किया जाएगा। मंत्री ने कहा कि लोगों को किसी तरह की परेशानी नहीं हो, इसके लिए पूरा बंद्योबस्त है। वहीं लोगाें से भी निवेदन है कि वे इस समय सरकार के अनुरोध को माने। बेव​जह बाहर नहीं निकले।
 लगा दी नोटिस, ‘यहां बाहर से आना मना है’
कोरोना को दूर भगाने के लिए उत्तर हावड़ा घुसुड़ी माधव बाबू लेन और नस्कर पाड़ा रोड स्थित कई मुहल्लों के मुहान के द्वार पर लोगों ने नोटिस लगा दी जिसमें लिखा था कि बाहर से आना मना है। यूं कहे कि बाहरी लोगों के लिए मोहल्ले और अंचल को लॉकडाउन कर दिया गया है।
मुहल्ले में है 500 से ज्यादा घर

माधव बाबू लेन की बात करें तो यहां 500 से ज्यादा घर है और 2000 से ज्यादा लोग यहां रहते हैं। सभी की सहमति से ये नोटिस लगाया गया है। इसमें एक में लिखा है कि लॉकडाउन के नियमों का पालन करें। दूसरे और तीसरे में लिखा है यहां आना और यहां से जाना मना है।
दिन में 2 घण्टे की है अनुमति
मुहल्ले में रहने वाली नेहा साव ने कहा कि लोगों की जान की सुरक्षा को लेकर मुहल्ले का निर्णय सही है। थोड़ी परेशानी होती है लेकिन यहां से बाहर जाने के लिए 2 घंटे मिलते हैं। इसमे हम अपनी जरूरत के समान जैसे दूध, सब्जी और राशन ले आते हैं। रिश्तेदारों को भी फोन पर ऐसा करने के लिए जागरूक कर रहे हैं। हम उनसे कह रहे हैं अभी जो स्थिति है उसे देखते हुए जहां हो, जैसे हो, वहां वैसे ही खुश रहिए। आपसे मिलना जरूरी नहीं है। आपका होना जरूरी है। लॉकडाउन की गंभीरता को समझें। अमर गुप्ता ने कहा कि लॉकडाउन को समझाने के लिए यहां तक बता रहे हैं कि जो ट्रेन युद्ध के दौरान नहीं रुकी, वह जगह-जगह खड़ी है। सरकार इसलिए गंभीर है कि लोग इसके चपेट में ना आएं। प्रधानमंत्री भी कोरोना का मतलब समझा चुके हैं कि कोई रोड पर बाहर ना निकले।

पुलिस प्रशासन की मिल रही है मदद
पुलिस प्रशासन हर समय माइक लेकर अपने – अपने क्षेत्रों में लोगों को समझा रही है। लोगों ने कहा कि इसका पालन करना हम सभी के लिए जरूरी है। ऐसे में कोई बाहर से आकर कोरोना हमारे इलाके में फैला दें, यह स्वीकार्य नहीं है। लोगों का मानना है कि पुलिस प्रशासन, डॉक्टर और स्वच्छता कर्मचारी दिन-रात मेहनत कर रहे है और हम ये जंग अच्छे जीत जाएंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

रजनीकांत की राजनीति में एंट्री

- 31 दिसंबर को करेंगे पार्टी का एलान चेन्नईः दक्षिण भारतीय फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत ने आखिरकार नई पार्टी बनाने की घोषणा कर दी है। पार्टी आगे पढ़ें »

यूएन में भारत बोला- करतारपुर साहिब गुरुद्वारा का प्रबंधन हस्तांतरित करना यूएनजीए प्रस्ताव का उल्लंघन

नयी दिल्ली : भारत ने पाकिस्तान द्वारा पवित्र करतारपुर साहिब गुरुद्वारे का प्रबंधन मनमाने तरीके से गैर सिख इकाई को हस्तांरित करने का विरोध करते आगे पढ़ें »

ऊपर