हावड़ा में कहीं राजस्थानी संस्कृति, तो कहीं महिला सशक्तिकरण की झलक

दूर से ही करने होंगे मां के दर्शन, मास्क व सैनिटाइजर होगा आवश्यक
हावड़ा : या देवी सर्वभूतेषु… की गूंज से दुर्गाेत्सव की शुरुआत हो गयी है। इस बार का बजट भले ही कमेटी का कम है लेकिन उनके उत्साह में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं है। हावड़ा में कहीं पर राजस्थानी संस्कृति तो कहीं महिला सशक्तिकरण की झलक मिलेगी। हां, मगर इस बार मां के दर्शन दूर से ही करने होंगे और कोरोना के सभी स्वास्थ्य नियमों को मानकर चलना होगा।
राजस्थानी परम्परा की झलक दिखेगी घासबागान स्पाेर्टिंग क्लब में
हावड़ा के घासबागान स्पोर्टिंग क्लब की पूजा पूरे उत्तर हावड़ा में बड़ी पूजा में से एक है। इस साल क्लब की पूजा को 54 साल पूरे हो गये हैं। इस बार भी यहां मां के 9 प्रतिरूप को दर्शाया जायेगा। पूजा के भले ही 54 साल पूरे होंगे लेकिन पिछले 27 साल से मां दुर्गा के नौ रूपों को दिखाया जा रहा है। इसके साथ ही पंडाल में राजस्थान की संस्कृति को दर्शाया जायेगा। क्लब की ओर से वर्किंग प्रेसिडेंट विनायक सिंह ने कहा कि इसके अलावा राजस्थान के ऊंट के साथ रेगिस्तान भी देखने को मिलेगा। हाई कोर्ट के आदेशानुसार पंडाल में लाइटिंग इस प्रकार की जायेगी कि लोग दूर से भी देखें तो खुश हो जाएं। पंडाल का बजट इस बार 15 लाख रुपये है। क्लब के सचिव अनिल सिंह ने बताया कि मूर्तिकार विश्वनाथ पाल हैं और पंडाल की सजावट रवि भुइयां हैं जो मिदनापुर के रहनेवाले हैं। बाहरी लाइटिंग पंडाल के पूर्व मिदनापुर के डेकोरेटर और पंडाल के अंदर हावड़ा के डेकोरेटर लाइटिंग की व्यवस्था करेंगे। वर्किंग प्रेसिडेंट संजय सिंह ने बताया कि पंडाल में आने से पहले दर्शकों के दोनों वैक्सीनेशन हो चुके हैं या नहीं इसकी जांच होगी। वहीं बिना मास्क के पंडाल में एंट्री नहीं मिलेगी और सैनिटाइजर के साथ मास्क की व्यवस्था होगी। क्लब के अध्यक्ष अर्जुन पात्रा हैं।
महिला सशक्तिकरण की झलक होगी स्वामीजी स्मृति संघ क्लब में


मध्य हावड़ा के वार्ड नंबर 29 में ग्रैंड फोरशोर रोड में आयोजित होनेवाले रामकृष्णोपुर घाट के निकट स्वामीजी स्मृति संघ क्लब की पूजा में बंगाल की संस्कृति काे दिखाने के साथ ही महिला सशक्तिकरण पर पूरा पंडाल तैयार किया गया है। इस बारे में संघ के अध्यक्ष सत्यब्रत सामंत ने बताया कि इस बार इस क्लब की पूजा की खास बात यह है कि यहां मां दुर्गा की अष्टधातु की मूर्ति देखने को मिलेगी। इसे मूर्तिकार सुधीर माइति ने तैयार किया है। इस क्लब के चीफ पेट्रोन राज्य के मंत्री अरूप राय, सचिव नारायण मजुमदार व वाइस प्रेसिडेंट धर्मेंद्र सिंह हैं। सत्यब्रत सामंत ने बताया कि बंगाल में महिलाओं का सम्मान हमेशा से ही किया जाता है। राजाराममोहन राय के समय से ही महिला सशक्तिकरण पर जोर दिया गया है। वहीं राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी महिलाओं के लिए लक्ष्मीभंडार जैसी योजना लाकर उन्हें और सेल्फ डिपेंटबेल बना दिया है। उसकी ही झलक राजबाड़ी की थीम पर बनी पंडाल में दर्शायी जायेगी। इस पंडाल के उद्घाटन के दौरान अभिनेता गोविंदा, देव और असरानी आयेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

राज्‍य सरकार की बड़ी घोषणा : बनेंगे फिर कंटेनमेंट जोन

कोलकाता : त्योहारों के मौसम के बीच राज्य में कोरोना ने एक बार फिर दस्तक दी है। दुर्गापूजा के बाद से ही राज्य में कोरोना आगे पढ़ें »

ऊपर