स्कूल फिलहाल न सोचें अपने लाभ का

सन्मार्ग संवाददाता, कोलकाता : स्कूल अपने लाभ के बारे में फिलहाल ना सोचें। हम यह नहीं कहते कि स्कूल अपने स्टॉफ और शिक्षकों को सैलरी ना दे। हम यह कहना चाहते है कि स्कूल फिलहाल अपने लाभ के बारे में ना सोचे। यह कहना है भारत बचाओ संगठन का। इस संगठन के तहत महानगर समेत जिलों के 120 स्कूलों के 15000 अभिभावक जुड़े हैं। उनकी मांग है कि अभी स्कूलों को ‘नो प्रोफिट नो लास’ सोचकर काम चलना चाहिए। संगठन के अध्यक्ष विनीत रुइया ने एक संवाददाता सम्मेलन कर कहा कि हमने जो आकड़े निकाले हैं उसके मुताबित जिस स्कूल में 1500 से 2000 विद्यार्थी हैं, वहां शिक्षकों व गैर शिक्षा कर्मियों की संख्या 70 से 100 के आस-पास है। ऐसे में स्कूलों को महीने में 50 लाख से लेकर 2 करोड़ तक की आमदानी होती है। हम बस यहीं कहना चाहते हैं कि स्कूल अभी जो आमदनी कर रहे हैं उसे फिलहाल के लिए बंद करें और कोशिश करें कि ताकि शिक्षकों का खर्च निकल जाये। उन्होंने कहा कि इस बीच यह भी देखने को मिल रहा है कि कुछ स्कूलों कि ओर से अभिभावकों को फीस के लिए दबाव दिया जा है। उन्हें मैसेज कर फीस की मांग की जा रही है। स्कूलों को 3 महीने की फीस एक साथ नहीं लेनी चाहिए, अभिभावकों पर फीस का दबाव ना दे और देर से फीस देने पर लेट फाइन ना ले। रुइया ने कहा कि अगर स्कूलों ने अभिभावकों की नहीं सुनीं तो हमलोग हाई कोर्ट का दरवजा खटखटा सकते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

शुभेंदु ने शाह व नड्डा से कहा, ‘नंदीग्राम से बनना चाहता हूं उम्मीदवार’

पीएम की अध्यक्षता में हुई चुनावी कमेटी की बैठक नयी दिल्ली/कोलकाता : विधानसभा चुनाव में शुभेंदु अधिकारी नंदीग्राम से ही उम्मीदवार बनना चाहते हैं। दिल्ली में आगे पढ़ें »

एक ओवर में 6 छक्के जड़ पोलार्ड ने युवराज की बराबरी की

कूलिज (एंटीगा) : वेस्टइंडीज के कप्तान कायरन पोलार्ड ने बुधवार को एक ओवर में छह छक्के जड़कर युवराज सिंह के रिकार्ड की बराबरी कर ली आगे पढ़ें »

ऊपर