सोने की बालियों के लिए किशाेरी की हत्यारन को आजीवन कारावास

बारासात : बारासात कोर्ट ने अशोकनगर के सालारग्राम निवासी 9 वर्षीया किशोरी अजमीरा खातून की हत्या के मामले में अभियुक्त आरेफन बीबी को दोषी करार दिया। उसे न्यायाधीश दामन प्रसाद बारुई ने मंंगलवार को मामले में दोषी पाया और गुरुवार को उसे अपराध के दंड स्वरूप आजीवन कारावास की सजा सुनाई।
क्या है अजमीरा खातून हत्या का मामला
23 अगस्त 2012 को सालारहाट अवैतनिक स्कूल की कक्षा 2 की छात्रा अजमीरा खातून के लापता होने की शिकायत अशोकनगर थाने में दर्ज की गयी। वह आखिरी बार अपनी गृह शिक्षिका और अभियुक्त की देवरानी सबीना यास्मीन के पास देखी गयी थी। जांच क्रम में पुलिस ने दूसरे दिन तालाब से किशोरी का शव बरामद किया। उसके हाथ-पैर बंधे थे। पुलिस ने फिर इस बाबत हत्या का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू की। इसकी जांच के दौरान ही अभियुक्त आरेफन इलाके से फरार हो गयी जिस पर पुलिस को संदेह हुआ और पुलिस ने उससे पूछताछ की और बाद में उसकी गिरफ्तारी हुई।
आरेफन की बच्ची के सोने की बालियों पर थी नजर
हत्यारन ने अपने अपराध को स्वीकार किया है और कोर्ट में उसने अपनी सजा के लिए भी खुद को उत्तरदायी बताया है। आरेफन ने कहा कि अजमीरा के सोने की बालियों पर उसकी बहुत दिनों से नजर थी। घटना के दिन जब अजमीरा उसकी देवरानी के पास से पढ़कर घर लौट रही थी तभी आरेफन ने उसे बिस्कुट खिलाने का लालच दिया और उसे अपने घर ले गयी। वहां उसने किशोरी के कान की दोनों बालियां छीन ली और उसे मारने की धमकी दी। इसके बाद भी उसे लगा कि अजमीरा यह बात सबको बता देगी इस कारण ही उसने अजमीरा की गला घोंटकर हत्या कर दी। वह किसी तरह से बच न पाये और उसकी लाश को ठिकाने लगाने के लिए आरेफन ने उसके हाथ-पैर बांधकर तालाब में फेंक दिया था। उसने भागने की कोशिश की इस कारण वह राजारहाट में एक संबंधी के यहां छिपी रही मगर पुलिस ने उसे ढूंढ निकाला और घटना के 7 दिनों में ही उसकी खरीबाड़ी से गिरफ्तारी हुई। पुलिस ने उसके पास से अजमीरा के कानों की बालियां बरामद कीं।

Leave a Comment

अन्य समाचार

सरकार ने जेकेएलएफ पर नकेल कसा, महबूबा उतरीं बचाव में

नई दिल्ली: भारत सरकार ने आतंकियों को संरक्षण प्रदान करने वाले संगठनों को मुहंतोड़ जवाब देना शरू कर दिया है। शुक्रवार को केंद्र सरकार ने कहा कि कई हिंसक घटनाओं और 1988 से जम्मू-कश्मीर में अलगाववादी गतिविधियों को बढ़ावा देने [Read more...]

कोलकाता में जन्मे जस्‍टिस पिनाकी घोष बने भारत के पहले लोकपाल

नई दिल्‍लीः सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्टिस पिनाकी चंद्र घोष आधिकारिक रूप से भारत के पहले लोकपाल बन गए हैं। जस्टिस पिनाकी घोष ने शनिवार को देश के पहले लोकपाल की शपथ ग्रहण की। राष्‍ट्रपति भवन में राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद [Read more...]

मोदी विरोधी शत्रुघ्न सिन्हा का टिकट कटा, गिरिराज की बदली सीट

पाक को मुंहतोड़ जवाब, भारतीय सेना ने 6 चौकियां उड़ाईं, 2 अफसरों समेत 12 सैनिक मार गिराए

हिन्दी की बढ़ी लोकप्रियता, ये नए शब्द ऑक्सफोर्ड डिक्‍शनरी में शामिल

पाकिस्तान ने भगत सिंह को क्रांतिकारी माना, चौक का नाम भगत सिंह चौक रखा

चीन में केमिकल फैक्‍ट्री में भयंकर विस्‍फोट, 47 लोगों की मौत

बिहार में महागठबंधन की सीटों का ऐलान, राजद 20 सीटों पर लड़ेगी चुनाव, कांग्रेस के खाते में 9, रालोसपा फायदे में

इस युवा बल्लेबाज ने 6 गेंदों पर छह छक्के जड़े और 25 गेंदों पर शतक, ‘यूनिवर्सल बॉस’ का रिकार्ड तोड़ा

पूर्व क्रिकेटर गंभीर ने भाजपा का दामन थामा, कहा- पीएम मोदी से हैं प्रभावित

मुख्य समाचार

सरकार ने जेकेएलएफ पर नकेल कसा, महबूबा उतरीं बचाव में

नई दिल्ली: भारत सरकार ने आतंकियों को संरक्षण प्रदान करने वाले संगठनों को मुहंतोड़ जवाब देना शरू कर दिया है। शुक्रवार को केंद्र सरकार ने कहा कि कई हिंसक घटनाओं और 1988 से जम्मू-कश्मीर में अलगाववादी गतिविधियों को बढ़ावा देने [Read more...]

कोलकाता में जन्मे जस्‍टिस पिनाकी घोष बने भारत के पहले लोकपाल

नई दिल्‍लीः सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्टिस पिनाकी चंद्र घोष आधिकारिक रूप से भारत के पहले लोकपाल बन गए हैं। जस्टिस पिनाकी घोष ने शनिवार को देश के पहले लोकपाल की शपथ ग्रहण की। राष्‍ट्रपति भवन में राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद [Read more...]

ऊपर