सीएए को लेकर भ्रम फैला रहा है केंद्र : ममता

momota

सीएए पर शाह से मांगा स्पष्टीकरण
पहाड़ियों के साथ दार्जिलिंग में निकाली प्रतिवाद रैली
सन्मार्ग संवाददाता
दार्जिलिंग : सीएए के प्रतिवाद में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सड़क पर उतर कर लगातार विरोध रैली निकाल रही है। बुधवार को दार्जिलिंग की पहाड़ों पर ममता ने रैली निकाली तथा केंद्र पर सीएए को लेकर भ्रम फैलाने का आरोप लगाया। ममता ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर कड़ा प्रहार करते हुए उनसे सीएए की धाराओं पर स्पष्टीकरण मांगा। उन्होंने कहा कि सीएए को आगे बढ़ाने के लिए केंद्र गैर भाजपा शासित राज्यों को निशाना बना रही है। खासकर देश के गृह मंत्री जो रोजाना नये-नये उपदेश दे रहे हैं। एक दिन पहले ही उन्होंने विपक्षी पार्टियों के लिए कहा कि वे लोगों को गुमराह कर रहे है। गृह मंत्री पहले यह स्पष्ट करें कि देश के व्यक्ति को पहले विदेशी घोषित किया जाएगा और बाद में उसे सीएए के तहत नागरिकता के लिए आवेदन की अनुमति होगी ?
दूसरी तरफ एनपीआर हैं जिसके लिए केंद्र कह रहा है कि दस्तावेजों की आवश्यकता नहीं है, बावजूद इसके माता-पिता के जन्म की तारीख और स्थान की जानकारी क्यों ली जा रही है ? ममता ने कहा कि दरअसल केंद्र
दो सूची बनाने की योजना बना रहा है, एक उन लोगों के लिए जो दस्तावेज जमा करेंगे और दूसरा उन लोगों के लिए जो दस्तावेज जमा नहीं करेंगे। उन्होंने एक बार फिर दोहराया कि राज्य में सीएए, एनपीआर और एनआरसी की अनुमति नहीं दी जाएगी। यहां से किसी भी नागरिक को बाहर करने से पहले भाजपा को उन्हें बाहर फेंकना होगा। असम में एनआरसी का जिक्र करते हुए ममता ने कहा कि लाखों गोरखा बेघर हो गये। दार्जिलिंग में ऐसा नहीं होने दिया जाएगा क्योंकि यहां ममता बनर्जी हैं। शाह ने विपक्षी पार्टियों पर सीएए को लेकर लोगों को ‘‘गुमराह’’ करने का आरोप लगाया था और कहा था कि विरोध प्रदर्शनों के बावजूद इस कानून को वापस नहीं लिया जायेगा। बंगाल में यह आंदोलन तब तक जारी रहेगा जब तक केन्द्र सरकार इस विवादास्पद कानून को वापस नहीं लेगी। केंद्र पर निशाना साधते हुए ममता ने सीधा सवाल किया है कि सीएए का प्रतिवाद करने वालों को पाकिस्तानी बता दिया जा रहा है। हम सीएए, एनआरसी व एनआरपी का ​विरोध कर रहे है तो क्या हम पाकिस्तानी हैं ?

शेयर करें

मुख्य समाचार

सर्दी-जुकाम से लेकर पीरियड्स के दर्द में मसाला चाय का एक कप है फायदेमंद

नई दिल्ली : कुछ लोगों को दिन के कई बार चाय पीने की आदत होती है। वहीँ कुछ लोगों को मसाला चाय काफी पसंद होती आगे पढ़ें »

modis

अचानक हुनर हाट पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी, लिट्टी-चोखा खाया और कुल्हड़ चाय पी

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की ओर से आयोजित ‘हुनर हाट’ में बुधवार को अचानक पहुंचे, वहां लिट्टी-चोखा खाया एवं कुल्हड़ आगे पढ़ें »

shahin

शाहीन बाग प्रदर्शन : मध्यस्थ बोले- प्रदर्शन करना आपका हक है तो सड़कों पर चलना, दुकानें खोलना दूसरों का हक

field

प्रधानमंत्री फसलबीमा योजना में बदलाव को मंजूरी, किसानों के लिए स्वैच्छिक बनाया

फोर्ड इंडिया ने पेश किया फिगो बीएस 6, ये है कीमत

akki

अक्षय और करण ने फिल्मफेयर अवार्ड के दौरान असम पुलिस की मुस्तैदी की प्रशंसा की

vicky

विकी कौशल ने इन्हें दिया अपने करियर का श्रेय, नए लोगों के साथ काम करने की आदत

देश में पहली बार 3डी प्रिंटिंग तकनीक से कैंसर के मरीज के जबड़े की हुई सर्जरी,7 साल बाद खाया पसंद का भोजन

ayodhya

रामजन्म भूमि ट्रस्ट के 15वें सदस्य के रूप में पूर्व कैबिनेट सचिव नृपेंद्र मिश्र का नाम तय

kejri

अरविंद केजरीवाल ने गृह मंत्री अमित शाह से की मुलाकात, कई अहम मुद्दों पर हुई चर्चा

ऊपर