सावधान! कोरोना अभी गया नहीं, हेल्थ एक्सपर्ट ने किया आगाह

वैक्सीनेशन के बाद भी कोविड संक्रमण के मिल रहे मामले
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः कोरोना वायरस का ओमिक्रॉन वैरिएंट अब धीरे-धीरे देश में अपने पैर पसार रहा है। देश में अब तक 5 राज्‍यों में 20 से अधिक केस इस वैरिएंट के रिपोर्ट हो चुके हैं। इस बीच हेल्थ एक्सपर्ट साफ कह रहे हैं कि लोगों को कोविड से अब भी सावधान रहने की जरूरत है। इस बारे में वरिष्ठ फीजिशियन डॉ.एस.के.सोंथलिया ने कहा कि वैक्सीनेशन के बाद ऐसा लग रहा है कि लोग कोविड को भूल जा रहे हैं। हालांकि हमारे पास डबल डोज लेने वाले लोग भी कोरोना संक्रमित होकर पहुंच रहे हैं। ऐसे में अब भी जरूरत है कि लोग आगामी दिनों में भी कोरोना वायरस से सचेत रहें। इससे ही लोग कोविड के असर से बच सकते हैं। मॉस्क के बिना लोग भीड़ में न निकलें। सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें।
नए वैरिएंट को लेकर लोगों को जानकारी कम
डॉ.सोंथलिया ने कहा कि अभी यह नहीं लग रहा है कि यह नया वैरिएंट काफी खतरनाक होगा। हालांकि जब तक इसके बारे में सब कुछ पता नहीं लग जाता है, हमें बहुत सावधान रहना होगा। दरअसल इस पर कौन सी दवा कारगर होगी, किसी को सटीक जानकारी नहीं है।
कोलकाता में पॉजिटिविटी रेट 5.45%
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़े के अनुसार कोलकाता में अब भी कोविड पॉजिटिविटी रेट 5.45% है। यह आंकड़ा 30 नवंबर से 6 दिसंबर के बीच का है। ऐसे में यह नहीं कहा जा सकता है कि कोरोना वायरस पूरी तरह से राज्य से जा चुका है। कुछ जिलों के आंकड़े अब भी चिंता का विषय बने हुए हैं। हालांकि राज्य सरकार की ओर से वैक्सीनेशन को काफी बढ़ाया गया है।
क्षेत्र-पॉजिटिविटी रेट
कोलकाता-5.45%
उत्तर 24 परगना-1.75%
जलपाईगुड़ी-2.79%
हावड़ा-2.07%
दार्जिलिंग-2.08%
(नोटःआंकड़े केंद्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय)

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

आईएएस कैडर के नियमों में बदलाव पर ममता ने फिर पीएम को लिखा पत्र

कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर आईएस कैडर (अब IAS कैडर रूल ) में प्रस्तावित बदलाव के फैसले पर आगे पढ़ें »

ऊपर