बर्दवान में भाजपा नेता को गोली मारी

घायल नेता से मिले भाजपा प्रत्याशी एस.एस. अहलूवालिया बर्दवान : पूर्व बर्दवान जिले के भातार इलाके में एक भाजपा नेता को अज्ञात हमलावरों ने गोली मार दी। राहत की बात यह रही कि गोली उनके हाथ में लगी और वे बाल-बाल बच गए। इस घटना को लेकर इलाके में तनाव फैल गया। वहीं गोली कांड को लेकर भाजपा और तृणमूल के बीच आरोप-प्रत्यारोप शुरु हो गया है। जानकारी के अनुसार, भातार थाना क्षेत्र के ओरग्राम में भाजपा महासचिव कृष्णकाली सामंत पर शनिवार की देर रात कातिलाना हमला हुआ। बताया जाता है कि रात में वे अकेले अपने घर के सामने बैठे हुए थे। उसी समय उन पर गोली चलायी गयी। भाजपा नेता के पुत्र संपत सामंत ने कहा कि दो बाइक पर सवार होकर तीन हमलावर आए थे और झाड़ी के पीछे छिपकर पिता पर दो गोलियां चलायीं। इसमें से एक गोली उनके पास से गुजर गयी। दूसरी गोली उसके पिता के हाथ में लगी। इसके बाद उन्हें घायल हालत में इलाज के लिए पहले भातार ग्रामीण अस्पताल ले जाया गया, फिर बेहतर इलाज के लिए बर्दवान मेडिकल कॉलेज व अस्पताल रेफर कर दिया गया। संपत सामंत ने आशंका जतायी कि पिछले कुछ समय से हमलावर उसके पिता का पीछा कर रहे थे। घटना की सूचना मिलते ही बर्दवान-दुर्गापुर लोकसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी एस.एस. अहलूवालिया और भाजपा के जिला अध्यक्ष संदीप नंदी घायल हुए कृष्णकाली सामंत से मिलने पहुंचे। भाजपा प्रत्याशी एस.एस. अहलूवालिया ने सन्मार्ग जिला प्रतिनिधि को बताया कि भातार इलाके में भाजपा के बढ़ते जनाधार से तृणमूल बौखला गयी है। इलाके में लगभग तृणमूल समाप्त हो चुकी है। इलाके में अपना प्रभाव बढ़ाने के लिए तृणमूल कांग्रेस इस तरह के कार्य कर रही है। इस घटना के बारे में जिले के रिटर्निंग अधिकारी और सेंट्रल पर्यवेक्षक से शिकायत की गयी है। अहलूवालिया ने कहा कि जिन लोगों ने गोली चलायी है, उनकी पहचान नहीं हो पायी है। प्रशासन के समक्ष ज्ञापन देकर कार्रवाई की मांग की गयी है।वहीं तृणमूल के नेताओं ने भाजपा द्वारा द्वारा लगाए गए आरोपों को बेबुनियाद बताया है और उनका कहना है कि इस गोलीकांड से तृणमूल का कोई लेना-देना नहीं है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

cricket

भारत ने दक्षिण अफ्रीका को पारी और 202 रन से हराया, 3-0 से किया क्लीनस्वीप

रांची : रांची के जेएससीए स्टेडियम में खेले गए तीसरे और अंतिम टेस्ट मैच में मंगलवार को भारत ने शानदार आलराउंड प्रदर्शन के दम पर आगे पढ़ें »

dhankhad

बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ बोले, ‘मैं राज्य सरकार के अधीन नहीं’

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में राज्य सरकार तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) और राज्यपाल जगदीप धनखड़ के बीच जारी तनातनी बढ़ती जा रही है। दरअसल इस विवाद आगे पढ़ें »

ऊपर