लोकल ट्रेन व मेट्रो चलाने की मांग पर…

  • भाजपा सांसद ने रेल मंत्री को दी ​चिट्ठी

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : भाजपा सांसद ने रेल मंत्री को चिट्ठी देकर लोकल ट्रेन व मेट्रो चालू करने की मांग की है। भाजपा के राज्यसभा सांसद स्वपन दासगुप्ता ने ये चिट्ठी गुरुवार को केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल को दी है। चिट्ठी को पोस्ट करते हुए स्वपन दासगुप्ता ने ट्वीट किया, ‘राज्य में अभी जो लॉकडाउन चल रहा है, वह अनुशासनहीन है।’ विधानसभा चुनाव के नतीजों की घोषणा के बाद गत 6 मई को राज्य में कोरोना रोकने के लिए कड़ी पाबंदी चालू की गयी। राज्य सरकार ने इसे लॉकडाउन नहीं कहकर भी परिस्थिति कार्यतः वैसी ही तैयार कर दी। उसी समय से लोकल ट्रेनों का संचालन बंद है। हाल के दिनों में पाबंदियों में राहत दिये जाने के बावजूद अब भी लोकल व मेट्रो रेल चालू करने की अनुमति नहीं दी गयी है। इसे लेकर या​त्रियों में भी नाराजगी है। हाल में लोकल ट्रेनें चलाने की मांग पर कई जगहों पर यात्रियों द्वारा विक्षोभ भी किया गया था। पहले 1 जुलाई से लोकल ट्रेनों के संचालन में भी कुछ राहत मिलने की उम्मीद थी, लेकिन मुख्यमंत्री ने स्पष्ट कह दिया है कि अभी लोकल ट्रेनें चलाने से संक्रमण काफी बढ़ेगा। वहीं भाजपा सांसद स्वपन दासगुप्ता ने इसका विरोध करते हुए रेल मंत्री को दी गयी चिट्ठी में दावा किया कि पिछले 15 दिनों में राज्य में लॉकडाउन की परिस्थिति में काफी राहत मिली है। कार्यालय से लेकर रेस्टोरेंट, जिम, सैलून व पार्लर चालू कर दिये गये। लोकल बसें भी चालू की गयी हैं, लेकिन लोकल ट्रेनें चालू नहीं किये जाने के कारण आम लोगों को भुगतना पड़ रहा है। ट्रेनें बंद रहने के कारण अन्य पब्लिक ट्रांसपोर्ट में काफी ज्यादा भीड़ होगी और इससे भला कैसे संक्रमण को रोका जा सकेगा। चिट्ठी में स्वपन दासगुप्ता ने लिखा है, ‘पश्चिम बंगाल के आम लोगों की सुविधा के लिए उम्मीद है कि रेल मंत्री और व्यक्तिगत तौर पर इस मुद्दे पर आप कदम उठायेंगे।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बड़ी खबरः राज्य में कोविड के बीच बच्चों में डेंगू के साथ स्क्रब टाइफस

एक्सपर्ट ने जागरूक रहने की दी सलाह सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः कोविड काल के बीच अचानक बच्चों में डेंगू के साथ स्क्रब टाइफस के मामले सामने आए हैं। आगे पढ़ें »

ऊपर