लॉकडाउन में घरेलू समस्याओं ने बढ़ायी परेशानी

किसी का ए.सी. नहीं कर रहा है काम तो कोई आरओ से है परेशान
कोलकाता : लॉकडाउन 2.0 इस बार और सख्ती से पालन किया जा रहा है। ऐसे में सब कुछ पूरी तरह बंद है। इन सबके बीच, घरेलू समस्याओं ने लोगों की परेशानी और बढ़ा दी है। किसी का ए.सी. काम नहीं कर रहा है तो कोई आरओ की समस्या से परेशान है। किसी के घर का कूलर और पंखा खराब है तो किसी का टीवी खराब हो गया है। पहले लॉकडाउन के दौरान तो मौसम ने भी कुछ साथ दिया तो ए.सी. नहीं भी ठीक करवाया तो कोई बात नहीं, लेकिन दूसरे लॉकडाउन में गर्मी ने भी तेवर तीखे कर दिये हैं और उस पर से ये परेशानियां। प्रस्तुत हैं सन्मार्ग संवाददाता मधु सिंह की विशेष रिपोर्ट:
ट्वीट कर लोग ढूंढ रहे हैं ए.सी. के लिए इले​क्ट्रिशियन
अगले कुछ दिनों में गर्मी और बढ़ने की संभावना है। इस पर लॉकडाउन से पहले ए.सी., पंखा आदि ठीक करने वाले श्रमिक भी अपने गांव चले गये हैं। इन सबके बीच जिन लोगों ने अपनी ए.सी. की सर्विसिंग नहीं करायी या फिर पंखे और कूलर आदि की मरम्मत नहीं करवायी है, उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ेगा। इस पर कुछ लोग सोशल मीडिया जैसे कि ट्वीटर आदि पर भी ट्वीट कर रहे हैं और ए.सी. की मरम्मत करने वाले इलेक्ट्रिशियनों को ढूंढ रहे हैं। इसी तरह नवीन चांडक नामक व्यक्ति ने ट्वीट किया कि कोलकाता में काफी गर्मी है और उनके घर की ए.सी. भी खराब है।
आरओ भी हुए खराब
बीमारी का डर कुछ लोगों के आरओ भी खराब हो गये हैं। ऐसे में लोगों में भय सता रहा है कि कहीं बगैर फिल्टर हुआ पानी पीकर लोग बीमार ना पड़ जाएं। राजारहाट में रहने वाली एक महिला रिया सेठ ने कहा कि उनके फ्लैट में पिछले 10 दिनाें से आरओ खराब हो गया है और मरम्मत करने वाला मिदनापुर में रहता है। कैसे इस तरह बगैर फिल्टर वाले पानी के रहूंगी, नहीं पता। गर्मी में ऐसे ही पानी की खपत अधिक होती है।
कूलर, फ्रिज और पंखे ने भी बढ़ायी परेशानी
गर्मी आने के ठीक पहले लोग अपने – अपने कूलर, फ्रिज और पंखों की मरम्मत करवाते हैं। हालांकि इस बार लोग सोचते रह गये और लॉकडाउन भी शुरू हो गया। अब लोग अपना सिर पीट रहे हैं। इतनी गर्मी में कूलर, फ्रिज और पंखों के बगैर रहना भला कैसे संभव है।
कार और बाइक की सर्विसिंग भी नहीं हुई
किसी की कार की सर्विसिंग नहीं हो पायी तो किसी की बाइक की। वहीं किसी के कार का हिस्सा टूट चुका है, लेकिन वह रिपेयरिंग नहीं करा पा रहा है। वहीं कई लोगों की कार पहले से सर्विसिंग में दी गयी थी जो अब लॉकडाउन के कारण सर्विस सेंटरों में ही फंस गयी है।
पार्लर – सलून भी हैं बंद, लोग परेशान
अगर किसी को हेयर कट कराना है या पार्लर – सलून में जाकर थोड़ा रिलैक्स होना है, इन सबके लिए भी अभी लोगों को लम्बा इंतजार करना होगा। लोगों ने पहले लॉकडाउन में सोचा होगा कि 14 के बाद पार्लर या सलून में जाकर लुक बदल देंगे, लेकिन इसी बीच लॉकडाउन 2 चालू हो गया और लोग इस परेशानी से भी गुजर रहे हैं। विशेषकर जिन लोगों को घरों में दाढ़ी या बाल बनाने की आदत नहीं है, वे अधिक परेशान हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

नंदीग्राम में बेटे शुभेन्दु के लिए प्रचार करेंगे शिशिर अधिकारी

खड़गपुर/कांथी: पूर्व मिदनापुर जिले के नंदीग्राम विधानसभा केंद्र में भाजपा उम्मीदवार शुभेन्दु अधिकारी के पक्ष में उनके पिता तथा कांथी से टीएमसी के निर्वाचित सांसद आगे पढ़ें »

कुंवारी स्त्रियों को शिवलिंग छूने की इजाज़त क्यों नहीं? जानिये ये सत्य, आज और अभी!

कोलकाताः हिंदू धर्म के अनुसार शिव लिंग की पूजा करना अच्छा माना जाता है और सिर्फ भारत में ही नहीं, पूरी दुनिया में जहाँ-जहाँ हिंदू आगे पढ़ें »

ऊपर