‘राज्य सरकार विद्यार्थियों का टीकाकरण कराए और यूनिवर्सिटी खोले’

* यादवपुर विश्वविद्यालय शिक्षक संघ ने शिक्षा मंत्री को लिखा पत्र
* कहा – पढ़ाई का विकल्प ऑनलाइन कक्षाएं नहीं हो सकती है
* प्रयोगशाला आधारित विषयों को डिजिटल माध्यम से नहीं पढ़ाया जा सकता
* महंगे उपकरणों का इस्तेमाल नहीं होने से हो रहे बर्बाद
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : यादवपुर विश्वविद्यालय शिक्षक संघ (जेयूटीए) ने सोमवार को राज्य सरकार के शिक्षामंत्री ब्रात्य बसु को पत्र लिखकर विद्यार्थियों और शोधकर्ताओं टीकाकरण कराने के लिए तत्काल कदम उठाने की मांग की है। साथ ही संस्थान दोबारा खोलने की भी मांग की है। शिक्षक संघ ने ब्रात्य बसु को लिखे पत्र में कहा है कि पहले चरण में टीकाकरण करने के बाद अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों को अलग बैच में ऑफलाइन कक्षा की अनुमति दी जा सकती है। पत्र में रिसर्च गतिविधियों को भी विश्वविद्यालय में दोबारा शुरू करने की अनुमति देने का अनुरोध किया गया है। जेयूटीए के महासचिव पार्थ प्रतिम रॉय ने कहा कि परिसर को दोबारा खोलने की तैयारियों के तहत हम तत्काल शोधार्थियों और अन्य विद्यार्थियों को कोविड-19 टीके की खुराक देने के लिए कदम उठाने की मांग करते हैं।’ शिक्षक संघ ने विद्यार्थियों के लिए परिसर में ऑफलाइन कक्षाएं शुरू करने की अनुमति देने की मांग की। गत 18 महीने से शिक्षण संस्थान बंद है। उन्होंने कहा कि परिसर में पढ़ाई का विकल्प ऑनलाइन कक्षाएं नहीं हो सकती है। प्रयोगशाला आधारित विषयों को डिजिटल माध्यम से नहीं पढ़ाया जा सकता है। पत्र में जेयूटीए ने कहा कि आपको शायद जानकारी होगी है कि हमारे विश्वविद्यालय की प्रयोगशालाओं में उपकरण लंबे समय से बंद पड़े हैं। कई अब ठीक से काम नहीं कर रहे हैं। अगर इन महंगे उपकरणों का इस्तेमाल नहीं किया गया, तो लाखों रुपये की हानि होगी, जो जनता के पैसे का अपव्यय होगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

किशोरों के खिलाफ होने वाले अपराध रोकेगी कोलकाता पुलिस की विशेष टीम

ज्वाइंट सीपी क्राइम के अधीन काम करेगी विशेष टीम सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : महानगर में साइबर क्राइम रोकने के लिए कोलकाता पुलिस की ओर से पहले ही आगे पढ़ें »

ऊपर