…राज्य में स्निफर डॉग की ‘वैकेंसी’

कोलकाता : मौजूदा समय में पूरी दुनिया में स्निफर डॉग की भूमिका और महत्व दोनों इस कदर बढ़ गये हैं कि अपराध की दुनिया के बादशाह भी इनसे डरने लगे हैं। अपराधियों को दबोचने से लेकर विस्फोटक, नारकोटिक्स, करेंसी का पता लगाना, खून के धब्बों को ढूढंना, लापता व्यक्ति की खोज से लेकर कई अहम कार्य करते हैं, स्निफर डॉग। ये डॉग किसी भी देश की ताकत होकर उभर रहे हैं। बड़े से बड़ा अपराध सुलझाने में जासूसी कुत्तों की पुलिस मदद लेती है। आतंकी कार्रवाई के समय अब इन स्निफर डॉग की मदद विस्फोटकों का पता लगाने के लिए ली जाने लगी है। इसके अलावा किसी खास स्थान पर आतंकियों का पता लगाने में भी ये काफी कारगर साबित हो रहे हैं।
क्या हमारे राज्य में स्निफर डॉग की संख्या पर्याप्त है? खासकर तब जब एक ही समय में दो या तीन बड़ी घटनाएं व कार्यक्रम एक साथ हो जाएं। पुलिस व अन्य सुरक्षा अधिकारियों का दावा है कि ऐसी स्थितियों के लिए राज्य में जासूसी कुत्तों की संख्या पर्याप्त है, मगर वर्तमान में चुनौतीपूर्ण स्थिति को देखते हुए जासूसी कुत्तों की और अधिक आवश्यकता है। आइये जानते हैं किसके पास कितने हैं जासूसी कुत्ते –
पूर्व रेलवे: फिलहाल – 26 स्निफर डॉग हैं।
26 स्निफर डॉग में से विस्फोटक जांचों के लिए 22 स्निफर डॉग हैं जबकि ट्रेकिंग के लिए 4 हैं। ईस्टर्न रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी आर. एन. महापात्र ने  बताया कि अभी जितना हमारे पास है उतने से काम ठीक चल रहा है। और अधिक कुत्तों के लिए हमलोग प्रयास कर रहे हैं।
साउथ ईस्टर्न रेलवे: फिलहाल – 21 स्निफर डॉग हैं, 4 की वैकेंसी हैं।   
सीआईडी
सीआईडी के पास अपना कोई डॉग स्क्वॉड नहीं है। सीआईडी की टीम जिस जिले में जाती है वहां के खोजी कुत्ते से काम में सहयोग लेती है। सीआईडी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हमारे पास अपना खुद का डॉग स्क्वॉड हो इसके लिए राज्य सरकार से आवेदन किया गया है। अगर मंजूरी मिल जाती है तो हमें सहूलियत होगी।
कोलकाता पुलिस: फिलहाल – 36 स्निफर डॉग हैं।   
30 के लिए आवेदन   
जानकारी के मुताबिक कोलकाता पुलिस के पास वर्ष 1971 में 1 खोजी कुत्ता था और 2011 तक इसकी संख्या बढ़कर 36 हो गयी। वर्तमान में डॉग स्क्वाॅड की मांग बढ़ रही है। इसे ध्यान में रखते हुए और 30 स्निफर डॉग के लिए आवेदन किया गया है।
जानकारी के मुताबिक वीआईपी मूवमेंट के लिए कम से कम 20 से 22 कुत्तों की जरूरत होती है। यह निर्भर करता है उस वक्त की परिस्थितियों पर। मसलन अगर कोई बड़ा कार्यक्रम होने जा रहा है तब सुरक्षा व्यवस्था भी बढ़ जाती है। इसके साथ ही राज्य सचिवालय नवान्न में वर्किंग आवर में 1 या 2 कुत्ते मौजूद होते हैं। कोलकाता पुलिस के डॉग स्क्वॉड के वरिष्ठ अधिकारी राजनारायण बनर्जी ने बताया कि जितना हमारे पास है उससे हमारा काम पूरा हो जाता है मगर वर्तमान में स्निफर डॉग की मांग बढ़ रही है।
ऐसे दी जाती है ट्रेनिंग
विस्फोटकों की जांच में अथवा किसी आपराधिक घटना में सुराग के काम में लाए जाने वाले डाग स्क्वाॅड में शामिल कुत्तों को कड़े प्रशिक्षण की अग्निपरीक्षा से गुजरना होता है। एक कुत्ते को ट्रेंड करने में सरकार का लाखों रुपये खर्च हो जाता है। 6 से 9 माह का लंबा और कठोर प्रशिक्षण दिया जाता है। कुत्ते को इस तरह से तराशा जाता है कि वह हर परीक्षा में पास हो जाए। इसके बाद ही उसे अलग – अलग जगहों के लिए आवंटित किया जाता है। स्निफर डॉग 8 से 10 साल तक अपनी सेवा देते हैं।
राज्य डॉग स्क्वॉड में आएंगे कई नये सदस्य
सूत्रों के अनुसार राज्य पुलिस विभाग शीघ्र ही 17 कुत्तों के पिल्ले खरीदने वाली है। इस संबंध में प्रस्ताव राज्य के गृह विभाग को भेज दिया गया है। पिल्लों को ट्रेनिंग के बाद इन्हें डॉग स्क्वाॅड के लिए विभिन्न जिलों को भेजा जाएगा।

मुख्य समाचार

bihar-flood-situation

बिहार में बाढ़ ने मचाया हाहाकार : अब तक 78 की मौत

पटना : राज्य में बाढ़ की स्थिति गंभीर बनी हुई है। इसकी वजह से अब तक मरने वालों की संख्या 42 से बढ़कर 78 हो आगे पढ़ें »

भाटपाड़ा में बमबारी जारी, 1 मरा

सर्च अभियान चलाकर पुलिस ने किये 6 बम बरामद भाटपाड़ा : भाटपाड़ा थानांतर्गत 10 नं. गली के रामनगर कॉलोनी में बम विस्फोट होने से एक व्यक्ति आगे पढ़ें »

नए कोच के चयन में नहीं चलेगी विराट की मनमानी

नयी दिल्ली : टीम इंडिया का नया मुख्‍य कोच कौन होगा इस पर फैसला कुछ समय बाद लिया जाएगा। पर बीसीसीआई के एक अधिकारी ने आगे पढ़ें »

कृषि क्षेत्र में विकास के लिए केंद्र और राज्यों को मिलकर करना होगा काम

नई दिल्ली: केंद्र सरकार को कृषि क्षेत्र में सुधार के साथ राज्यों को वित्त आयोग द्वारा किए गए अनुदान और आवंटन को जोड़ना चाहिए। यह आगे पढ़ें »

2018-19 में डिजिटल ट्रांजेक्शन 51 फीसदी बढ़ी, कुल डिजिटल ट्रांजेक्शन 3,133.58 करोड़ के पार पहुंचा

नई दिल्ली : देश में डिजिटल ट्रांजेक्शन तेजी से बढ़ रहा है। वर्ष 2018-19 में डिजिटल ट्रांजेक्शन पिछले साल की तुलना में 51 फीसदी बढ़ी आगे पढ़ें »

निजी क्षेत्र और उपक्रमों को बढ़ावा देकर आर्थिक वृद्धि की रफ्तार तेज करना चाहती है सरकार

नई दिल्ली : केंद्र सरकार निजी क्षेत्र और निजी उपक्रमों को बढ़ावा देकर आर्थिक वृद्धि की रफ्तार बढ़ाने पर जोर दे रही है। इस बारे आगे पढ़ें »

सिंधू का दमदार प्रदर्शन, इंडोनेशिया ओपन के क्वार्टर फाइनल में पहुंची

जकार्ता : भारत की चोटी की शटलर पीवी सिंधू ने डेनमार्क की मिया बिलिचफेल्ट के खिलाफ तीन गेम तक चले संघर्षपूर्ण मैच में जीत दर्ज आगे पढ़ें »

fire in an animation studio in japan, 24 dead

एनिमेशन स्टूडियो में लगायी आग, 24 जिंदा जले

टोक्यो : जापान के क्योटो शहर में गुरुवार सुबह एक एनिमेशन स्टूडियो में आग लगने से 24 लोग जिंदा जल गए जबकि 35 से अधिक आगे पढ़ें »

ऐसे उठा सकते हैं एनपीएस में छुट का लाभ

नई दिल्ली : नेशनल पेंशन योजना (एनपीएस) ने ईपीएफओ से कहीं ज्यादा रिटर्न दिया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक बीते 10 साल में केंद्रीय और आगे पढ़ें »

teachers enclosing legislative assembly lathi charged by the police

विधानसभा का घेराव करने पहुंचे शिक्षकों पर पुलिस ने किया लाठीजार्च

पटना : वेतनमान समेत सात सूत्रीय मांगों को लेकर गुरुवार को राजधानी पटना में विधानसभा का घेराव करने पहुंचे नियोजित शिक्षकों पर पुलिस ने जमकर आगे पढ़ें »

ऊपर