राजीव कुमार मामला : सीबीआई ने मांगी बंगाल सरकार से मदद

rajeev-kumar

कोलकाता : कोलकाता पुलिस के पूर्व कमिश्नर तथा चर्चित आईपीएस अधिकारी राजीव कुमार को घेरने के लिए सीबीआई ने फुलप्रूफ तैयारी की है। इस साल के 3 फरवरी को राजीव कुमार के घर के सामने जो हाईवोल्टेज ड्रामा हुआ था उससे सीबीआई ने सीख ली है। इस बार हर उस उच्च अधिकारी को लपेटा जा रहा है जो राजीव कुमार से किसी न किसी तरह से आधिकारिक रूप से सम्बद्ध हैं चाहे वह मुख्य सचिव, गृह सचिव या डीजीपी हों या और कोई। कोलकाता पुलिस के पूर्व कमिश्नर राजीव कुमार पर अब चौतरफा दबाव बन चुका है। एक ओर राजीव कुमार हरसंभव प्रयास कर रहे हैं कि उन्हें सीबीआई की टीम के समक्ष न जाना पड़े, उन्हें सीबीआई की टीम गिरफ्तार न करे तो दूसरी ओर सीबीआई की टीम ने पूरा जोर लगा दिया है। स्थानीय अदालत से सुप्रीम कोर्ट तक सीबीआई सक्रिय है। यही कारण है कि सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में कैवियट दाखिल की है ताकि वे अग्रिम जमानत न ले सकें। इस बीच बारासात स्थित सीबीआई अदालत में राजीव कुमार ने अग्रिम जमानत की याचिका दाखिल की है, जिस पर आज यानी मंगलवार को सुनवाई हो सकती है। यहां सीबीआई और अधिक हमलावर हो सकती है तथा सूत्र बताते हैं कि गैर जमानती वारंट की अपील एजेंसी की ओर से की जा सकती है। वहीं सीबीआई कार्यालय की सुरक्षा बढ़ा दी गयी है। इसके अलावा अतिरिक्त सुरक्षा हेतु सेंट्रल फोर्स की टीम को स्टैंड बाई में रखा गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अप्रैल में सोने के निर्यात में करीब 100 फीसद की गिरावट दर्ज की गई

नई दिल्ली : हालिया वैश्विक गतिविधियों के कारण देश का स्वर्ण आयात लगातार घट रहा है। इस साल अप्रैल में लगातार पांचवे महीने देश के आगे पढ़ें »

‘क्रिकेट की बहाली के लिये आईसीसी के कुछ दिशा निर्देश अव्यवहारिक, समीक्षा की जरूरत’

हर बार गेंद को छूने के बाद हाथ सेनिटाइज करना संभव ही नहीं नयी दिल्ली : पूर्व क्रिकेटरों आकाश चोपड़ा, इरफान पठान और मोंटी पनेसर का आगे पढ़ें »

ऊपर