यासः एयरपोर्ट पर 3 विशेष विमान से बंगाल को बचाने आये….

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में यास दस्तक देने वाला है। इससे लोगों को बचाने के लिए अलग अलग स्थानों से एनडीआरएफ की टीम कोलकाता एयरपोर्ट पर पहुँच रही है। इसी क्रम में बनारस से के विशेष उड़ान कोलकाता एयरपोर्ट पर पहुँची। इससे कुल 127 जवान कोलकाता आए। वहीं सूत्र बताते है कि तूफान यास से निपटने को बिहटा के सिकंदरपुर स्थित 9वीं वाहिनी राष्ट्रीय आपदा मोचन बल की 5 टीमें पश्चिम बंगाल के विभिन्न जिलों के लिए रवाना हो गईं है । द्वितीय कमान अधिकारीके नेतृत्व में एयरफोर्स के विशेष विमान से गई टीमें अत्याधुनिक आपदा प्रबंधन तथा संचार उपकरणों से लैस हैं। यह टीम पटना से कोलकाता आयी है। इससे 50 से अधिक जवान कोलकाता पहुँचे हैं।
जिलों में भेजी जाएंगी टीमें
एक अधिकारी के मुताबिक़ पश्चिम बंगाल में चक्रवात यास से निपटने के लिए बिहटा के सिकंदरपुर स्थित 9वीं वाहिनी राष्ट्रीय आपदा मोचन बल की पांच टीमों को रवाना किया गया है। यह टीमें पश्चिम बंगाल के कोलकाता, उत्तर तथा दक्षिण 24 परगना जिलों में तैनात की जाएंगी। इन टीमों में कुल 145 बचावकर्मी शामिल हैं। बंगाल गई टीम के जवान चक्रवाती तूफान यास के दौरान हर चुनौती का सामना करने को तैयार हैं। इन जवानों के मुताबिक़ आपदा की इस घड़ी में हम स्थानीय लोगों को हर सम्भव मदद करेंगे। इसके लिए तैयारी पहले ही कर ली गई है।
कई प्रदेश को किया गया है अलर्ट
तूफान यास को लेकर पहले से ही आंध्र प्रदेश, ओडिशा, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और अंडमान-निकोबार में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। इसका सबसे ज्यादा असर बंगाल और ओडिशा पर पड़ेगा। यह मौसम विभाग द्वारा बताया गया है। अंडमान और निकोबार और पूर्वी तट के कुछ इलाकों में तेज बारिश होने की संभावना है। इससे बाढ़ का खतरा भी बन सकता है।
एयरपोर्ट पर आज होगी उच्च स्तरीय बैठक
कोलकाता एयरपोर्ट पर यास को लेकर आज सोमवार की दोपहर एक अहम बैठक की जाएगी। इस बैठक में एयरपोर्ट पर मौजूद इन्फ़्रस्ट्रक्चर को बचाने के लिए अहम फ़ैसले लिए जाएंगे। तूफ़ान के दौरान उड़ान परिसेवा जारी रहेगी या एयरपोर्ट को बंद रखा जाएगा, इसका निर्णय इस बैठक में लिया जा सकता है। वहीं अमूमन इस तरह के तूफ़ान में विमानों व अन्य उपकरणों को बांध दिया जाता है। इसके साथ ही एयरपोर्ट के अधिकारियों व कर्मियों को अलर्ट मोड पर रहने को कहा जाता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बारला के बाद अब एक और भाजपा सांसद ने की अलग राज्य की मांग

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : अलीपुरदुआर के भाजपा सांसद जाॅन बारला ने जहां उत्तर बंगाल को अलग राज्य या केंद्र शासित प्रदेश घोषित किये जाने की मांग आगे पढ़ें »

मोबाइल फोन का ज्यादा इस्तेमाल करने वाले हो जाएं सावधान…

कोलकाताः मोबाइल फोन के ज्यादा इस्तेमाल से अवसाद और नींद न आने जैसी गंभीर बीमारी हो सकती है। सिर्फ यहीं नहीं एक रिसर्च के मुताबिक, आगे पढ़ें »

ऊपर