मोदी के खिलाफ बोलने का मतलब भारत माता के खिलाफ बोलनाः शुभेंदु

कोलकाता : बंगाल चुनाव से पहले जहां एक तरफ बीजेपी लगातार ममता बनर्जी के गढ़ में घेराबंदी करने पर जुटी हुई है वहीं दूसरी तरफ ममता बनर्जी भी पूरे जोर शोर से बीजेपी को मात देने की बात कह रही हैं। पूर्वी मिदनापुर में एक सार्वजनिक रैली के दौरान बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि बीजेपी को अलविदा, हम बीजेपी को नहीं चाहते हैं। हम मोदी का चेहरा भी नहीं देखना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि हम दंगा, लूट, दुर्योधन, दुशासन और मीर जाफर भी नहीं चाहते हैं। वहीं बीजेपी नेता शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि आपको कोरोना के खिलाफ पीएम मोदी का टीका लेना होगा। वह चुने हुए पीएम हैं। उनके खिलाफ बोलना लोकतंत्र के खिलाफ बोलना है। उनके खिलाफ बोलने का मतलब भारत माता के खिलाफ बोलना है। पाकिस्तान और बांग्लादेश में वैक्सीन नहीं है, इसलिए आपको पीएम मोदी का टीका ही लेना होगा। बता दें कि पश्चिम बंगाल की लड़ाई तेज़ होती जा रही है। राज्य की मुख्यमंत्री और तृणमूल प्रमुख ममता बनर्जी ने नंदीग्राम से विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया तो बीजेपी का दामन थाम चुके शुभेंदु अधिकारी ने भी नंदीग्राम से ही ताल ठोक दी और चैलेन्ज देते हुए कहा कि अगर वो ममता को हरा नहीं सके तो वो राजनीति छोड़ देंगे। हाल ही में एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि तृणमूल एक पार्टी नहीं बल्कि प्राइवेट कंपनी है। इसके अलावा उन्होंने ममता के राजनीतिक कौशल पर भी सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि टीएमसी को अगर बिहार से चुनावी रणनीतिकार को नियुक्त करने की जरूरत पड़ रही है तो साफ़ है कि बीजेपी राज्य में बढ़त हासिल कर चुकी है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोलकाता को ‘सिटी ऑफ फ्यूचर’ बनायेगी भाजपा : मोदी

दीदी ओ दीदी अब की बार नहीं कहा, केवल की विकास की बात कोलकाता : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बंगाल में अपनी पहली वर्चुअली चुनावी सभा आगे पढ़ें »

मेरी लड़ाई किसी से नहीं, काम मेरी पहचान – फिरहाद हकीम

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : पोर्ट विधानसभा चुनाव में मैं किसी को अपना प्रतिद्वंदी नहीं मानता हूँ। मेरी लड़ाई किसी से नहीं बल्कि मेरी खुद से है। आगे पढ़ें »

ऊपर