मैंने कभी लाल बत्ती जलायी ही नहीं : ममता

कोलकाता : मंत्री अब लाल बत्ती की गाड़ी का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे। प्रधानमंत्री से लेकर राष्ट्रपति और मुख्यमंत्री तक को बिना लाल बत्ती की गाड़ी में ही सफर करना पड़ेगा।  नरेन्द्र मोदी सरकार की इस नई पहल की चौतरफा चर्चा है।
लाल बत्ती के मुद्दे पर बंगाल की सीएम ममता बनर्जी को कुछ खास असर नहीं पड़ता नजर आ रहा है। वह स्वयं कभी भी लाल बत्ती वाली गाड़ी का इस्तेमाल नहीं की हैं। ओडिशा से लौटने के दौरान कोलकाता एयरपोर्ट पर मीडिया के सवाल के जवाब में सीएम ने कहा मैंने कभी लाल बत्ती वाली गाड़ी का इस्तेमाल नहीं किया। मैं जब सांसद और केंद्रीय मंत्री थी तभी भी नहीं और अब मुख्यमंत्री हूं फिर भी नहीं। उनके मंत्रियाें द्वारा लाल बत्ती वाली गाड़ी के इस्तेमाल पर किए गये सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि सुरक्षा के लिहाज से हाई वे पर लाल बत्ती के इस्तेमाल की बात कही गयी है।
क्या कहना है मंत्रियों का
बंगाल के मंत्री भी अपनी गाड़ी से लाल बत्ती को उतारने की तैयारी में हैं। राज्य शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने कहा कि निर्देश मिलते ही लाल बत्ती को गाड़ी से उतार देंगे। हम तो जनता के सेवक हैं। लाल बत्ती कोई बड़ी बात नहीं है। इसी तरह का सुर अन्य मंत्रियों के गले से भी सुना गया। नाम न छपवाने की शर्त पर एक अन्य मंत्री ने कहा कि यह निर्देश सिर्फ एक मंत्री के लिए नहीं है बल्कि सभी के लिए है। अगर राष्ट्रपति से पीएम तक अपनी गाड़ी में से लाल बत्ती का इस्तेमाल नहीं करेंगे तो हमें भी ऐसा करने में क्या आपत्ति हो सकती है? मंत्री अरूप राय ने कहा कि लाल बत्ती आज है, कल नहीं हो सकती है। सीएम अगर अभी बोलेंगी तो लाल बत्ती हटा दूंगा।
लाल बत्ती से संबंधित क्या आया है नया नियम
वीआईपी कल्चर पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से मोदी सरकार ने अफसरों की गाड़ियों से लाल बत्ती हटाने का निर्णय लिया है। इनमें राष्ट्रपति, उप राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, केंद्रीय मंत्री,राज्यों के मुख्यमंत्री व मंत्री तथा सरकारी अफसरों के वाहन शामिल हैं।
ये कर सकेंगे नीली बत्ती का इस्तेमाल
अब केवल एंबुलेंस, फायर सर्विस जैसी आपात सेवाओं तथा पुलिस व सेना के अधिकारियों के वाहनों पर नीली बत्ती लगेगी। यह फैसला एक मई से लागू होगा। बुधवार को केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि इस ऐतिहासिक निर्णय में कैबिनेट ने आपात सेवाओं को छोड़ सभी वाहनों से लाल बत्तियां हटाने का निश्चय किया है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

प्रेमी को जमकर पीटा फिर पेट्रोल छिड़क कर जला दिया

पूर्व मिदनापुर: पूर्व मिदनापुर जिले के भूपतिनगर में एक प्रेमी युवक की पहले पिटाई की कई, बाद में शरीर पर पेट्रोल छिड़ककर फूंक दिया गया। आरोप उसकी प्रेमिका के घरवालों पर लगा है। मृतक की प्रेमिका, उसके घर के 4 [Read more...]

रेल रोको आंदोलन से चार घंटे तक ठहरी ट्रेनें

मालदहः माकपा कार्यकर्ताओं के रेल रोको आंदोलन के कारण कई स्टेशनों पर ट्रेनें घंटों खड़ी रह गईं। इससे यात्रियों को व्यापक परेशानी का सामना करना पड़ा। दरअसल 10 सूत्री मांगों के समर्थन में जिला माकपा ने शनिवार को हरिश्चंद्रपुर स्टेशन [Read more...]

मुख्य समाचार

प्रेमी को जमकर पीटा फिर पेट्रोल छिड़क कर जला दिया

पूर्व मिदनापुर: पूर्व मिदनापुर जिले के भूपतिनगर में एक प्रेमी युवक की पहले पिटाई की कई, बाद में शरीर पर पेट्रोल छिड़ककर फूंक दिया गया। आरोप उसकी प्रेमिका के घरवालों पर लगा है। मृतक की प्रेमिका, उसके घर के 4 [Read more...]

रेल रोको आंदोलन से चार घंटे तक ठहरी ट्रेनें

मालदहः माकपा कार्यकर्ताओं के रेल रोको आंदोलन के कारण कई स्टेशनों पर ट्रेनें घंटों खड़ी रह गईं। इससे यात्रियों को व्यापक परेशानी का सामना करना पड़ा। दरअसल 10 सूत्री मांगों के समर्थन में जिला माकपा ने शनिवार को हरिश्चंद्रपुर स्टेशन [Read more...]

ऊपर