मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा-मेरे घर में भी बिजली नहीं, धैर्य रखें

कोलकाता : अम्फान तूफान की वजह से बंगाल में मची तबाही से राज्य के बहुत से क्षेत्र में बचाव के लिए कटी बिजली की वजह से लोग सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे है। इसी के तहत शनिवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि मेरे घर में भी बिजली चली गयी है लोग धैर्य बनायें रखें। कानून को अपने हाथ में ना लें।

जनरेटरों को किराये पर लिया जा रहा

गृह विभाग ने कहा, ‘‘जहां जरूरत है वहां जनरेटरों को किराये पर लिया जा रहा है। विभिन्न विभागों और निकायों के 100 से ज्यादा दल गिरे हुए पेड़ों को काटने में लगे हुए हैं जो मुहल्लों में बिजली की आपूर्ति बहाल करने के लिये अहम है।’

पुलिस हाई अलर्ट पर

उसने कहा, ‘‘डब्ल्यूबीएसईडीसीएल और सीईएससी से अधिकतम कर्मियों को लगाने को कहा गया है यद्यपि लॉकडाउन की वजह से तैनाती क्षमता काफी प्रभावित हुई है। पुलिस हाई अलर्ट पर है।’
कोलकाता और पड़ोसी जिलों में चक्रवात के तीन दिन बाद भी बिजली, पानी की आपूर्ति बहाल नहीं होने पर लोगों के प्रदर्शन के बाद यह घोषणा की गई।

धैर्य रखें 

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लोगों से धैर्य बनाए रखने को कहा है क्योंकि प्रशासन सामान्य स्थिति बहाल करने में लगातार लगा हुआ है। ‘अम्फान’ चक्रवात की वजह से राज्य में 86 लोगों की जान चली गई और कम से कम 14 जिलों में आधारभूत ढांचों को खासा नुकसान पहुंचा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

10 दिसंबर को होगा नए संसद भवन का शिलान्यास

नई दिल्लीः लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने शनिवार को कहा कि नए संसद भवन का शिलान्यास 10 दिसंबर को 1 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगे पढ़ें »

सरकार ने किसानों से मांगा 3 दिन का वक्त

सीनियर सिटीजंस और बच्चों से घर लौटने की अपील नई दिल्लीः कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन का आज 10वां और अहम दिन था आगे पढ़ें »

ऊपर