कोलकाता में माझेरहाट फ्लाईओवर गिरा, कई के मरने की आशंका

सन्मार्ग संवाददाता, कोलकाता ः कोलकाता में ​फिर एक फ्लाईओवर गिर गया है। यह फ्लाईओवर तारातल्ला के माझेरहाट इलाके में था और दक्षिणी कोलकाता को जोड़ता था। विशेषकर बेहाला की ओर जाने वाले वाहन यहां से गुजरते थे। इस हादसे में कई गाड़ियों और बसों के मलबे में दबे होने की आशंका है। कोलकाता पुलिस और एनडीआरएफ की टीमें बचाव कार्य के लिए मौके पर पहुंचकर मलबे को हटाने में जुट गई हैं। मौके पर कई एम्बुलेंस भी भेज दी गई हैं। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि मलबे के नीचे अनेक गाड़ियां दबी हुई हैं। यह आशंका इसलिए भी प्रबल है क्योंकि जिस समय फ्लाईओवर गिरा, वह चालू हालत में था।  लगभग 60 साल पुराने इस पुल की मरम्मत के लिए भी काम किया जा रहा था। पुल के नीचे रेलवे लाइन, दुकानें और घर होने की बात भी सामने आ रही है।

चिंतित हूं ः ममता 

हादसे के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि हम हालात पर नजर बनाए हुए हैं, लोगों को बचाना पहली प्राथमिकता है। मैं फ्लाईओवर गिरने से चिंतित हूं। हमारी प्रशासनिक टीमें बचाव कार्य के लिए मौके पर पहुंच गई हैं और नुकसान कम से कम हो, इसके लिए हम हरसंभव प्रयास करेंगे।

कोलकाता में निर्दोषों की जान जा रही ः बाबुल

वहीं, केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने ममता सरकार पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि कोलकाता में निर्दोष लोगों की जान जा रही है। उन्होंने कहा कि यदि राज्य की ममता बनर्जी सरकार समय रहते सचेत हो जाती तो इस प्रकार का हादसा नहीं होता।

2016 में गिरा था कोलकाता में फ्लाईओवर

बताते चलें कि इससे पहले भी कोलकाता के गणेश टॉकिज में मार्च 2016 में निर्माणाधीन विवेकानंद फ्लाईओवर का एक हिस्सा गिर गया था। हिस्से के गिरने से 25 लोगों की मौत हो गई थी और 80 लोग घायल हो गए थे। इस मामले में कार्रवाई करते हुए राज्य सरकार ने 2 इंजिनियरों को सस्पेंड कर दिया था। इस हादसे के बाद केंद्र सरकार ने देशभर के सभी पुलों के बारे में रिपोर्ट मांगी थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सीएए और एनआरसी को लेकर मेयर ने बोला हमला

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मेयर और मंत्री फिरहाद हकीम ने सीएए और एनआरसी को लेकर एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला बोला। रविवार को रक्तदान आगे पढ़ें »

ईस्ट वेस्ट मेट्रोः इस महीने शुरु होने की उम्मीदें बढ़ीं

नए जीएम ने मेट्रो परियोजना का किया निरीक्षण सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः साल्टलेक स्टेडियम से साल्टलेक सेक्टर-5 तक मेट्रो परियोजना के शुरू होने की उम्मीदें एक बार फिर आगे पढ़ें »

ऊपर