महानगर में सक्रिय है ‘सूट-बूट’ वाले नाबालिग चोरों का गिरोह

कोलकाता : महानगर में बच्चों से चोरी कराने वाले एक से अधिक शातिर गिरोह सक्रिय हैं। ये लोग बच्चों को ‘लिफ्टिंग’ का प्रशिक्षण देकर  शादी की पार्टी व बड़े शॉपिंग मॉल में पहुंचने वाले लोगों को अपना शिकार बना रहे हैं।  मॉल के अंदर लोगों के पर्स ऐसे उड़ाते हैं जिसपर ‘तीसरी आंख’ की भी नजर नहीं पड़ती है। हालांकि कई बार सीसीटीवी कैमरे में उनकी तस्वीर कैद होती है लेकिन पुलिस उन्हें पकड़ नहीं पाती।   शॉपिंग मॉल के साथ-साथ बड़ी पार्टियों  में ‘सूट-बूट’ में पहुंचकर ये लोग एक सोची-समझी प्लानिंग के तहत पहले अपना शिकार खोजते हैं और काफी देर तक  उसका पीछा करने के बाद मौका मिलते ही सामान लेकर रफूचक्कर हो जाते हैं।   पिछले 3-4 दिनों में शॉपिंग मॉल व शादी की पार्टियों में चोरी की संख्या में वृद्धि हुई है। पुलिस सूत्रों की मानें तो यह गिरोह खासतौर पर पॉश इलाके में स्थित मॉल व समारोहों में अपनी वारदात को अंजाम दे रहे हैं।  इनके निशाने पर अधिकांश रूप से महिलाएं रहती हैं।
वेलट्रेंड बच्चों को भेजा जाता है ऑपरेशन पर
पुलिस सूत्रों के अनुसार सूट-बूट वाले गिरोह का सरगना  खासतौर पर बस्ती इलाकों के बच्चों को नियुक्त करता है और फिर उन्हें ट्रेनिंग देता है । प्रशिक्षण के दौरान कुछ दिनों के लिए उनसे बसों में पॉकेटमारी करवाता है और प्रशिक्षण में पास होने पर उन्हें बड़े ऑपरेशन पर भेजता है।  यह बड़ा ऑपरेशन उन्हें पॉश एरिया में स्थित मॉल व शादी समारोह के अंदर अंजाम देना होता है। ऑपरेशन में जाने से पहले गिरोह का सरगना बच्चों को शादी में जाते ही अपना टार्गेट महिलाओं को बनाने को  कहता है।
उक्त बच्चे शादी में  उन महिलाओं को अपना टार्गेट बनाते हैं जो अपने हाथों में पर्स व मोबाइल रखती हैं। इसके साथ ही किस महिला के थैले में शादी या समारोहों में मिलने वाले गहने या नकदी हैं इसपर भी इनकी नजर रहती है।  एक बार टार्गेट सेट करने के बाद बच्चे उसके पीछे लग जाते हैं। इस बीच जैसे ही महिला अपना पर्स टेबल व अन्य जगह रखकर भोजन करने अथवा शौच के लिए जाती है तभी अभियुक्त उसे लेकर फरार हो जाते हैं। इस तरह की एक तस्वीर बाइपास पर चल रहे एक शादी समारोह के दौरान कैद हुई थी। तीन साल हो गये और अभी तक अभियुक्त पकड़ में नहीं आया।   कई बार तो गिरोह का सरगना भी उनके साथ पार्टी में शामिल रहता है और वह उन्हें टार्गेट बताकर उनसे अलग हो जाता है। एक बार जब चोरी कर बच्चे बाहर निकलते हैं तो वह भी उनके साथ फरार हो जाता है।
महंगे मोबाइल व बाइक के शौक में बच्चे जुड़े हैं चोरी के धंधे में
पुलिस सूत्रों के अनुसार पिछले कुछ सालों में बच्चों के बीच इस तरह के अपराध को लेकर क्रेज बढ़ा है।  समाज के अमीर बच्चों की तरह महंगे मोबाइल फोन व बाइक चलाने की चाह रखते हैं ये बच्चे। ऐसे में यह चाहत ही उन्हें अपराध की दहलीज पर ले जाती  है। बच्चों के इस लोभ का फायदा गिरोह के सरगना उठाते हैं। गिरोह चलाने वाला अभियुक्त बच्चों को कम समय में ज्यादा रुपये कमाने का सपना दिखाकर उन्हें ट्रेनिंग देता है और फिर उन्हें महानगर में भेजते हैं। इस गिरोह के अधिकतर सदस्य हावड़ा व दक्षिण 24 परगना के ग्रामीण इलाकों में रहनेवाले     होते हैं।
आइए नजर डालते हैं पिछले 3 दिनों में घटी कुछ घटनाओं पर :
घटना 1. टॉलीगंज के लेक मॉल में शॉपिंग कर रही रूपा चटर्जी का रुपये से  भरा बैग चोरी हो गया । बालीगंज के आयरन साइड रोड स्थित गवर्नमेंट  क्वार्टर्स में रहनेवाली रूपा चटर्जी राय के उक्त बैग में 51 हजार रुपये नकद, क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड सहित अन्य  दस्तावेज थे। पुलिस सूत्रों के अनुसार सीसीटीवी कैमरे के फुटेज के आधार पर उन्होंने अभियुक्त की पहचान कर ली है। पुलिस सूत्रों के अनुसार अभियुक्त महिला को काफी देर से पीछा कर रहा था और कई बार उसने महिला का ध्यान भटकाने की भी कोशिश   की थी।
घटना 2. प्रगति मैदान थानांतर्गत पी.सी चंद्रा गार्डन में एक शादी की पार्टी के दौरान पुणे से आयी डॉ. गौरी सुधे बालसड़े  का रुपये से भरा पर्स चोरी कर लिया गया।
पुलिस सूत्रों की मानें तो इस घटना को भी  ‘सूट-बूट’ वाले गिरोह ने ही अंजाम  दिया है। पुणे की रहनेवाली महिला चिकित्सक डॉ. गौरी सुधे बलसाड़े अपने एक रिश्तेदार की शादी में शिरकत करने के लिए  पहुंची थी। महिला का कहना है कि शनिवार की देर रात जब वह पार्टी में  भोजन कर रही थी तभी कोई उसका पर्स चोरी कर फरार हो गया। महिला चिकित्सक के  अनुसार उसके पर्स में 30 हजार रुपये नकद , दो क्रेडिट कार्ड सहित अन्य  महत्वपूर्ण दस्तावेज थे।

मुख्य समाचार

फिल्म ‘दबंग 3’ में महेश की बेटी से इश्क लड़ाते दिखेंगे सलमान

मुंबई : ‌सलमान खान की फिल्म 'दबंग' में महेश मांजरेकर ने सोनाक्षी सिन्हा के पिता का किरदार निभाया था और अब 'दबंग 3' में उनकी आगे पढ़ें »

Chandrayaan-2-image

इस वजह से आखिरी समय में रोकी गई मिशन चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग

श्रीहरिकोटा : भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के दूसरे मून मिशन चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग तकनीकी कारणों से रोक दी गई। चंद्रयान-2 को सोमवार सुबह 2:51 आगे पढ़ें »

film sahoo invested 70 crores in an action scene

एक एक्‍शन सीन के लिए इस फिल्म में 70 करोड़ हुए खर्च

मुंबईः पूरी फिल्म के बनने में करोड़ों रुपये खर्च होना तो आम बात है पर फिल्म में एक सीन के लिए करोड़ों रुपये खर्च करने आगे पढ़ें »

मोदी ने संसद से गायब रहने वाले मंत्रियों की लिस्ट मांगी

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को भाजपा संसदीय दल की बैठक के दौरान संसद की रोस्टर ड्यूटी से गायब रहने वाले मंत्रियों आगे पढ़ें »

State Bank of India

एसबीआई पर रिजर्व बैंक ने लगाया 7 करोड़ का जुर्माना, यह थी वजह…

नई दिल्‍लीः देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक एसबीआई (स्टेट बैंक ऑफ इंडिया) को तगड़ा झटका लगा है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने एसबीआई आगे पढ़ें »

देश में वाहनों की खुदरा बिक्री जून में 5.4 प्रतिशत घटी

नयी दिल्लीः देश में वाहनों की खुदरा बिक्री जून में 5.4 प्रतिशत घटकर 16,46,776 इकाई रही, जो जून 2018 में 17,40,524 इकाई थी। ऑटो मोबाइल आगे पढ़ें »

कैटरीना ने मैक्सिको में मनाया बर्थ डे, साझा की तस्वीरें

मुबंई : मैक्सिको में छुट्टियां बिता रहीं बॉलीवुड अभिनेत्री कैटरीना कैफ ने मंगलवार 16 जुलाई को अपना 35वां बर्थ डे मनाया। साथ ही कैटरीना ने आगे पढ़ें »

1700-year-old building found in the Caspian Sea, scientists engaged in the investigation

कैस्पियन सागर में मिली 1700 साल पुरानी इमारत, पड़ताल में जुटे वैज्ञानिक

लंदनः रूस के शहर डर्बेंट के पास कैस्पियन सागर में एक 1700 साल पुरानी इमारत मिली है। ये इमारत पूर्णतः भूमिगत है और स्‍थानीय चूना आगे पढ़ें »

Plastic waste

देश में बनेगा पहला गार्बेज कैफे, कचरा देने पर मुफ्त मिलेगा नाश्ता-खाना

अंबिकापुर : प्लास्टिक कचरा आज के समय में पूरे विश्व के लिए समस्या बना हुआ है। पर्यावरण को इससे होने वाले नुकसान से बचाने के आगे पढ़ें »

Delhi Police, arrested jaish terrorist, Bashir Ahmad

दिल्ली पुलिस ने 2 लाख के इनामी जैश आतंकी को दबोचा

दिल्ली : आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकी को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने धर दबोचा है। बशीर अहमद नाम के इस आतंकी की आगे पढ़ें »

ऊपर