ममता और ओवैसी में ठनी

नई दिल्ली/कोलकाता : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की ‘अल्पसंख्यक कट्टरता’ को लेकर दी गई हिदायत पर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन (एआईएमआईएम) नेता असदुद्दीन ओवैसी भड़क गये हैं। उन्होंने ममता बनर्जी से पूछा है कि बंगाल में बीजेपी 18 लोकसभा सीट कैसे जीत गई? उन्होंने ट्वीट कर कहा कि बंगाल में मुसलमानों को मूलभूत मानवीय सुविधाएं मयस्सर नहीं होने पर सवाल उठाना धार्मिक कट्टरता नहीं है। ओवैसी ने ट्वीट किया, ‘यह कहना कि बंगाल के मुसलमानों का किसी भी अल्पसंख्यक के मानव विकास सूचकांकों में सबसे खराब में से एक होना धार्मिक कट्टरता नहीं है।’ उन्होंने ममता को मई में आए लोकसभा चुनाव नतीजों में बंगाल में बीजेपी को मिली बड़ी सफलता की भी याद दिलाई और पूछा, ‘अगर दीदी हम कुछ ‘हैदराबादियों’ से चिंतित हैं तो उन्हें हमें यह बताना चाहिए कि बीजेपी बंगाल की 42 लोकसभा सीटों में 18 पर जीत कैसे गई?’
अल्पसंख्यक कट्टरता और ‘हैदराबाद वालों’ पर बोली थीं ममता
सांसद असदुद्दीन ओवैसी की यह प्रतिक्रिया ममता बनर्जी के उस बयान के बाद आया है, जिसमें उन्होंने पहली बार अल्पसंख्यों के बीच कट्टरपंथी होने की बात कहते हुए ऐसे तत्वों को तवज्जो नहीं देने की हिदायत दी थी। ममता ने हिंदू बहुसंख्यक आबादी वाला इलाका कूचबिहार में ओवैसी या उनकी पार्टी का नाम लिए बिना कहा था, ‘मैं देख रही हूं कि अल्पसंख्यकों के बीच कई अतिवादी हैं। इनका ठिकाना हैदराबाद में है। आप लोग इन पर ध्यान मत दें।’ हैदराबाद के जिक्र की वजह से ओवैसी ने भी सामने आने में देर नहीं की।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में अब तक 1 लाख के पार कोरोना संक्रमण के मामले, 73 हजार ठीक, 2 हजार की मौत

कोलकाता : वेस्ट बंगाल कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पिछले 24 घंटे में पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस संक्रमण के 2931 नये मामलों की पुष्टि आगे पढ़ें »

मणिपुर में कांग्रेस के छह विधायकों ने विधानसभा की सदस्यता और पार्टी से दिया इस्तीफा

इम्फाल : मणिपुर में कांग्रेस के छह विधायकों ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया और मंगलवार को पार्टी भी छोड़ दी। इन छह आगे पढ़ें »

ऊपर