मंत्रियों को लक्ष्मण रेखा पार नहीं करनी चाहिए – राज्यपाल

पर्यटक कहने वाले मंत्रियों को पढ़ाया पाठ

कोलकाता : राज्यपाल और सरकार के बीच मनमुटाव और एक कदम आगे बढ़ गया। शुक्रवार को जादवपुर विश्वविद्यालय की कोर्ट बैठक में शामिल होने पहुंचे राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने सीआरपीएफ सुरक्षा से लेकर कार्निवल समेत कई मुद्दों पर राज्य के कैबिनेट मंत्रियों की आलोचनाओं का उन्हें करारा जवाब दिया। राज्यपाल ने कहा कि मैं लक्ष्मण रेखा पार नहीं करता और मंत्रियों को भी लक्ष्मण रेखा पार नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि उनकी भूमिका काे लेकर कुछ मंत्री जो बयान दे रहे हैं, वह बेहद ही दुर्भाग्यपूर्ण है। राज्यपाल ने कहा कि, मुझे बड़ा आश्चर्य होता है कि कैसे ऐसे लोग मंत्रालय संभाल रहे हैं जो मुझे पर्यटक कहते हैं। मैं कोई पर्यटक नहीं हूं मै राज्यपाल हूं। जगदीप धनखड़ ने कहा कि कुछ कहते हैं कि मैं पब्लिसिटी के लिए ये सब कर रहा हूं, तो मैं उन्हें बता दूं कि ख्याति पाना मेरा जॉब नहीं है। उन्होंने अपनी सुरक्षा के मुद्दे पर कहा कि मैं जो करता हूं सरकार को उसकी जानकारी है। सरकार के साथ मेरी क्या बात हुई इसे सार्वजनिक नहीं कर सकता हूं। मैं खुद सुरक्षा के मुद्दे पर बात नहीं करना चाहता हूं मगर राज्य सरकार के एक सीनियर मंत्री सुब्रत मुखर्जी बयानबाजी कर रहे हैं। उनसे आवेदन है कि कुछ भी कमेंट करने से पहले अपनी सरकार से पता लगाइये कि मेरी सुरक्षा का मुद्दा कैसे सामने लाया। मंत्री को यह शोभा नहीं देता है कि वे मीडिया में कुछ भी कह दें। उल्लेखनीय है कि राज्यपाल ने गत दिनों आरोप लगाया है कि दुर्गापूजा मेगा कार्निवल में उन्हें ब्लैक आउट किया गया। उन्हें कार्निवल में अपमानित महसूस हुआ। राज्यपाल के इस मंतव्य के बाद मंत्री तापस राय ने कहा था कि राज्यपाल पब्लिसिटी के लिए यह सब कह रहे हैं। वहीं राज्यपाल की सुरक्षा मुद्दे पर मंत्री सुब्रत मुखर्जी ने आलोचना की थी।उन्होंने एक बार फिर कार्निवल पर मंतव्य को दोहराते हुए कहा कि मुझे बड़ा आश्चर्य होता है कि मीडिया पर भी कंट्रोल किया गया, मीडिया को दिखाने दिया जाता जो वे दिखाना चाहते थे। राज्यपाल ने केवल सुब्रत मुखर्जी ही नहीं बल्कि शिक्षा मंत्री का नाम लिये बिना टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि मेरे सिलीगुड़ी सफर को लेकर राज्य के मंत्री ने विज्ञप्ति देकर जो मंतव्य किया क्या वह राज्य के संवैधानिक प्रधान के खिलाफ किया जाना चाहिए? उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अपने मंत्रियों को कैसे संभालती हैं यह उनका मामला है, इस पर मैं कुछ भी नहीं करता हूं मगर संवैधानिक रूप से जो भी मेरा दायित्व है उसका पालन करूंगा। लोगों के हित में अपनी बातें सामने लाता रहूंगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

diabetes-day-image

ऐसी जीवनशैली अपनाएंगे तो नहीं होगी डायबिटीज

मधुमेह के लक्षण, इलाज और घरेलू उपचार हमारी बिगड़ती जीवनशैली के कारण हमारा शरीर कई बीमारियों का घर बन गया है। इन्हीं बीमारियों में से एक आगे पढ़ें »

डेहरी ऑन सोन : बोलेरो और गैस टैंकर की टक्कर में दो की मौत, पांच गंभीर

डेहरी ऑन सोन : बिहार में रोहतास जिले के डेहरी के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी संजय कुमार ने बुधवार को यहां बताया कि स्थानीय सूअरा मोड़ आगे पढ़ें »

ऊपर