भीषण रूप लेने लगा साइक्लोन ‘यास’

कोलकाता : पश्चिम बंगाल और उत्तरी ओडिशा के तटीय इलाकों पर चक्रवाती तूफान ‘यास’ का खतरा मंडरा रहा है l मौसम विभाग ने 24 घंटों के भीतर चक्रवात के गंभीर तूफान में तब्दील होने की आशंका जताई है l मौसम विभाग के मुताबिक चक्रवाती तूफान ‘यास’ के चलते आज (मंगलवार) ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश होने के आसार हैं l मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि चक्रवात के कारण तटीय इलाकों में 2-4 मीटर ऊंची लहरें उठ सकती हैं l मौसम विभाग के अनुसार भीषण तूफान के दौरान 155 से 165 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से हवा चलने की उम्मीद हैl जो 185 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार तक पहुंच सकती है l मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक यास तूफान बुधवार (26 मई) शाम तक ओडिशा के पारादीप और सागर आइलैंड्स के बीच लैंडफॉल कर सकता है l
– ओडिशा-बंगाल के इन इलाकों के प्रभावित होने की संभावना
ओडिशा के भद्रक, केंद्रपाड़ा, जाजपुर, जगतसिंहपुर और मयूरभंज इलाके तूफान से सबसे ज्यादा प्रभावित हो सकते हैं. जबकि पश्चिम बंगाल के मेदिनीपुर, दक्षिण 24 परगना, हावड़ा, हुगली और उत्तर 24 परगना में असर देखा जाएगा l मौसम विभाग के मुताबिक यास तूफान 26 मई को बंगाल और ओडिशा के तट से टकरा सकता है l तूफान की आहट के बाद राज्य और केंद्र सरकार की एजेंसियां अलर्ट पर हैं l

शेयर करें

मुख्य समाचार

लड़कियों के स्तनों को छूने से पहले…

कोलकाता : जानना चाहते हैं कि किसी लड़की के स्तनों को कैसे छुएं। बहुत से पुरुषों को समझ नहीं आता है कि वह पहली बार आगे पढ़ें »

सीएम के प्रयास से राज्य में कोविड-19 की दूसरी लहर को नियंत्रित किया गया : विमान बनर्जी

दक्षिण 24 परगना : सीएम के प्रयास से राज्य में कोविड-19 की दूसरी लहर को सफलतापूर्वक नियंत्रित किया गया। बारुईपुर पश्चिम के विधायक व विधानसभा आगे पढ़ें »

ऊपर