भाजपा के नियमों से तालमेल नहीं बैठने पर तृणमूल में लौट रहे हैं कुछ नेता : दिलीप

कोलकाता : भारतीय जनता पार्टी की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने शुक्रवार को कहा कि विधानसभा चुनाव से पहले तृणमूल कांग्रेस से उनकी पार्टी में आए नेता अब इसलिए छोड़कर वापस जा रहे हैं क्योंकि वे तालमेल नहीं बैठा पा रहे। इस पर तृणमूल कांग्रेस ने कहा कि घोष को आखिरकार बात समझ में आ गयी। घोष ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए राजीव बनर्जी और सब्यसाची दत्ता के बयानों को देखते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है। उन्होंने दावा किया कि भाजपा में आने वाले नये नेताओं को पार्टी के नियमों के साथ तालमेल बैठाने में कठिनाई हो रही है, लेकिन पुराने नेताओं को ऐसी कोई समस्या नहीं है। इस पर तृणमूल कांग्रेस के राज्य महासचिव कुणाल घोष ने कहा कि भाजपा नेतृत्व को चुनाव से पहले दूसरे दलों को कमजोर करने के नतीजों के बारे में सोचना चाहिए था। उन्होंने कहा कि अच्छी बात है कि भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष को ‘देरी से ही सही, बात समझ में आ गयी’। उन्होंने कहा कि भाजपा नेता ने तृणमूल कांग्रेस नेताओं को खुली हवा में सांस लेने के लिए अपनी पार्टी में बुलाया था लेकिन अब ‘‘दिलीप घोष किसी दिन अपनी ही पार्टी में घुटन महसूस कर सकते हैं और उन्हें ऑक्सीजन की जरूरत पड़ सकती है’’।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

त्रिपुरा में भी अब ‘खेला होबे दिवस’

कोलकाता : सीएम ममता बनर्जी ने 21 जुलाई शहीद दिवस के मंच से घोषणा की थी कि बंगाल में 16 अगस्त को खेला होबे दिवस आगे पढ़ें »

ऊपर