भाजपा के कानून भंग आंदोलन को लेकर रणक्षेत्र बना एसपी कार्यालय

मिदनापुर : पश्चिम मिदनापुर जिला एसपी कार्यालय सोमवार को भाजपा के कानून भंग आंदोलन के दौरान रणक्षेत्र में तब्दील हो गया। आरोप है कि आंदोलन के समय पुलिस कर्मियों को लक्ष्य कर ईंट – पत्थर फेंके गये। पुलिस को जवाबी कारवाई करते हुए रबर बुलेट और आंसू गैल के गोले दागने पड़े। इस घटना में कई लोग घायल हो गये जिनमें पुलिस कर्मी भी शामिल हैं। इस दिन एसपी कार्यालय से लेकर कलेक्टरेट मोड़ तक हंगामा मच गया। भाजपा की ओर से दावा किया जा रहा है कि उनके लगभग 40 कर्मी व समर्थक घायल हुए हैं जबकि पुलिस के अनुसार, लगभग 9 पुलिस कर्मी घायल हो गये हैं।
सोमवार को पश्चिम मिदनापुर के एसपी कार्यालय के सामने भाजपा की ओर से कानून भंग आंदोलन का आयोजन किया गया था। अभियान के मद्देनजर बैरिकेड बनाकर उसके पीछे काफी संख्या में पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया था। भाजपा के राज्य नेता सायंतन बसु व भारती घोष के नेतृत्व में रैली एसपी कार्यालय के सामने पहुंची। बैरिकेड के सामने भाजपा नेता तो रुक गये लेकिन भाजपा कार्यकर्ताओं ने आगे बढ़ने का प्रयास किया। बताया जाता है कि भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा पहला बैरिकेड तोड़ दिया गया और दूसरा बैरिकेड भी तोड़ने लगे। आरोप है कि उसी समय भाजपा कार्यकर्ताओं की ओर से पुलिस को लक्ष्य कर ईंट व पत्थर फेंके जाने लगे और पानी के पाउच भी फेंके गये। इसके बाद पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए पहले लाठीचार्ज किया और उसके बाद रबर बुलेट व आंसू गैस के गोले दागे गये। इससे भाजपा कर्मियों व समर्थकों में भगदड़ मच गयी। ईंट व पत्थरों से राज्य सड़क पट गयी। भाजपा के जिलाध्यक्ष समित दास ने आरोप लगाया कि भाजपा कर्मी शांति से आंदोलन कर रहे थे, लेकिन पुलिस की ओर से लाठीचार्ज किया गया व गोले भी दागे गये। वहीं पश्चिम मिदनापुर जिला पुलिस सुपर दिनेश कुमार का कहना है कि घटना में 9 लोग घायल हुये हैं जिसमें 4 पुलिस कर्मी शामिल हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

courtsy

योगी सरकार की कार्रवाई पर इलाहाबाद हाई कोर्ट ने लगाई रोक

लखनऊ : इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ उत्तर प्रदेश में हुए हिंसक प्रदर्शन के दौरान नुकसान की भरपाई के लिए आगे पढ़ें »

bengal

मालदा में पुल ढहने को लेकर भाजपा और तृणमूल ने एक-दूसरे पर साधा निशाना

मालदा : पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में निर्माणाधीन पुल का एक हिस्सा ढहने की घटना को लेकर सोमवार को सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और विपक्षी आगे पढ़ें »

ऊपर