भाजपा का केन्द्र में होना देश का दुर्भाग्य : ममता

सन्मार्ग संवाददाता
मुर्शिदाबाद : भाजपा का केन्द्र में होना देश के लिए दुर्भाग्य है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को बहरमपुर में आयोजित जनसभा में यह मंतव्य व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि कैसे कोई पार्टी (भाजपा) यह दावा करती है कि उसका पार्टी दफ्तर पूरे विश्व में सबसे बेहतर और बड़ा है। उन्होंने कहा‌ कि पार्टी दफ्तर के भव्य होने से कोई पार्टी बड़ी या छोटी नहीं होती बल्कि जनता से सीधा जुड़ाव उसे बड़ा बनाता है। बहरमपुर में कई परियोजनाओं के शिलान्यास और उद्घाटन के अवसर पर मुख्यमंत्री ने उक्त बाते कही।
उल्लेखनीय है कि नरेंद्र मोदी ने रविवार को दीनदयाल उपाध्याय मार्ग पर नये पार्टी ऑफिस का उद्घाटन किया। इस पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि बीजेपी का नया हेडक्वार्टर दुनिया में किसी भी राजनीतिक पार्टी के ऑफिस से बड़ा है। बीजेपी का नया ऑफिस 1.70 लाख वर्ग फीट में है।

भव्य दफ्तर से नहीं, जनता से जुड़ने से बड़ी होती है राजनीतिक पार्टी
बैंक महाघोटाला के पीछे कई बड़े हाथ

ममता बनर्जी ने पंजाब नेशनल बैंक स्कैम पर कहा कि इसके पीछे कौन-कौन लोग हैं? इसका केन्द्र जल्द खुलासा करे। मुझे लगता है कि इस धोखाधड़ी के पीछे कई बड़े हाथ हैं। कभी भी सबूत गलत नहीं हो सकता है। मेरा अनुमान है कि नोटबंदी से एक साल पहले ही इस घोटाले की योजना बन चुकी थी। इस काम के लिए ही कुछ लोगों की नियुक्तियां की गयी थीं। इन सभी का पता लगाया जाना चाहिए। आम जनता के पैसे को इस तरह लूटा नहीं जा सकता।
मुख्यमंत्री ने नोटबंदी पर कहा कि इसका ब्लूप्रिंट भाजपा सरकार के सत्ता में आने के साथ ही शुरू हो गया था। एक गहरी साजिश के तहत देश में नोटबंदी जैसा कदम उठाया गया। कितना नोट छपा और कहां-कहां गया यह भी रहस्यमय है। उन्होंने कहा कि इतना तो तय है कि नोटबंदी से आम जनता को कोई फायदा नहीं पहुंचा बल्कि उसकी तो बची खुची रकम भी डूब गयी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें मुर्शिदाबाद जिले पर गर्व है। यहां कभी दंगा नहीं हुआ और यहां के नागरिक हमेशा इस मुद्दे पर तटस्थ रहते हैं। लोगों को एकजुट रहने का आह्वान करते हुए उन्होंने कहा कि भेदभाव से दूर एकजुट होकर जिले के विकास में अपना योगदान दें।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में कुछ लोग ऐसा कहते हैं कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान कन्याश्री से काफी वृहद आकार का है। उन्होंने कहा कि मैं अब लोगों को इसकी सच्चाई बताती हूं। उन्होंने कहा कि देश की आबादी लगभग 130 करोड़ है। केन्द्र सरकार ने इस परियोजना पर 100 करोड़ रुपये आवंटित किये हैं। इसमें हर राज्य की भागेदारी बनती है। बंगाल में तीन करोड़ बेटियां हैं और केन्द्र द्वारा आवंटित इस अल्प हिस्से की रकम प्रति बच्ची महज तीस पैसे की पड़ती है। अब कन्याश्री को देखें। राज्य सरकार इस परियोजना के तहत 5 हजार करोड़ रुपये खर्च करती है। प्रति बेटियाें को 25 हजार रुपये की रकम हमारी सरकार देती है। यह केन्द्र के आवंटित रुपये से कहीं अधिक और प्रभावी है। मुख्यमंत्री ने चैलेंज करते हुए कहा किकेन्द्र सरकार पहले काम करना सीखे फिर भाषण दे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Jaideep Dhankhar

ममता सरकार पर राज्यपाल का आरोप, नहीं दी हेलीकॉप्टर सुविधा

कोलकाता : पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने राज्य की सरकार पर हेलीकॉप्टर की सुविधा प्रदान न करने का आरोप लगाया है। राज्यपाल ने आगे पढ़ें »

ranbaxy

शीर्ष न्यायालय ने रैनबैक्सी के पूर्व प्रवर्तकों को दोषी ठहराया, आदेश के खिलाफ बेचे कंपनी के शेयर

नयी दिल्ली : शीर्ष न्यायालय ने रैनबैक्सी के पूर्व प्रवर्तकों मलविंदर सिंह और शिविंदर सिंह को न्यायालय की अवमानना का दोषी ठहराया है। इन दोनों आगे पढ़ें »

ऊपर