ब्रेकिंग : बजट सत्र शुरू होते ही विधायकों का हंगामा…राज्यपाल धनखड़ नहीं पढ़ पाए अभिभाषण

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में चुनाव संपन्न होने के बाद विधानसभा का पहला सत्र शुरू हुआ, लेकिन राज्यपाल जगदीप धनखड़ जैसे ही अभिभाषण पढ़ने के लिए उठे कि विधायकों ने हंगामा करना शुरू कर दिया। भाजपा और टीएमसी के विधायकों के बीच जोरदार हंगामा हुआ, जिसके बाद राज्यपाल बिना अभिभाषण पढ़े ही सदन से बाहर निकल गए। सदन के बाहर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और राज्यपाल धनखड़ के बीच मुलाकात हुई। इस दौरान दोनों के बीच थोड़ी देर तक बातचीत हुई। इससे पहले राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने पहले ही साफ किया है कि सरकार की सभी लिखी चीजों को वो सदन में नहीं बोलेंगे।

नियमों के मुताबिक, विधानसभा के बजट सत्र की शुरुआत राज्यपाल के अभिभाषण से होती है। इस अभिभाषण को राज्य सरकार तैयार करती है और राज्यपाल सदन में इसे पढ़ते हैं। आमतौर पर अभिभाषण में सरकार के कामकाज की उपलब्धियां और आने वाली योजनाओं का खाका होता है, लेकिन राज्यपाल जगदीप धनखड़ कई मौकों पर ममता सरकार के कामकाज पर सवाल उठा चुके हैं।

सीएम ममता और राज्यपाल आमने-सामने

गौरतलब है कि बंगाल चुनाव में भाजपा की करारी शिकस्त के बाद पार्टी से कई नेताओं का मोहभंग शुरू हो गया है। हाल ही में भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय की टीएमसी में घर वापसी हुई है, उसके बाद से भाजपा से टीएमसी में जाने का सिलसिला लगातार जारी है। विपक्षी दल भाजपा के निशाने पर ममता सरकार है। वहीं ममता बनर्जी भी भाजपा पर हमले करने का एक मौका नहीं छोड़ती। बीते दिनों सीएम ममता बनर्जी ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ को भ्रष्टाचारी बताया था। जिसपर राज्यपाल ने खुद पर लगाए गए सारे आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया था। राज्यपाल धनखड़ ने कहा था कि उन पर राजनीति की भावना से प्रेरित होकर सारे आरोप लगाए जा रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

एक दिन में कोविड से 10 की मौत, 662 नए मामले

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः राज्य में एक दिन में कोरोना वायरस के संक्रमण से 10 की मौत हो गई। इसके अलावा 662 नए मामले सामने आए हैं। आगे पढ़ें »

ऊपर