दिलीप घोष को रोका गया दौरे से, पुलिसकर्मियों के साथ हुई झड़प

कोलकाता : बीते दिनों बंगाल में अम्फान तूफान की वजह से मची तबाही से सब कुछ लोगों को बरबाद हो गया है। इसी हालात को देखने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी बंगाल आए थे। शनिवार को बंगाल में बीजेपी और टीएमसी का झगड़ा एक बार फिर देखने को मिला है। तूफान से प्रभावित इलाके के दौरे के लिए जा रहे पश्चिम बंगाल बीजेपी के अध्यक्ष दिलीप घोष के काफिले को पुलिस ने रोक दिया। घोष को पूर्वी कोलाकाता के धलाई ब्रिज पर रोका गया है। घोष दक्षिण 24 गरगना के गोसाबा जा रहे थे।

पुलिस टीएमसी नेताओं को नहीं रोक रही है : घोष

घोष ने बताया,‘ मुझे नहीं पता कि क्यों मुझे चक्रवात प्रभावित इलाकों में जाने से रोका गया। तृणमूल के नेता उन स्थानों पर जा रहे हैं और राहत सामग्री बांट रहे हैं। पुलिस उन्हें नहीं रोक रही है। नियम केवल भाजपा नेताओं के लिए बदलते हैं।’घोष ने कहा कि यदि उन्हें प्रभावित इलाकों में जाने की इजाजत नहीं दी गई तो वह धरने पर बैठ जाएंगे।उन्होंने कहा, ‘अगर राज्य सरकार राहत पर राजनीति करना चाहती है तो उन्हें हमारे कार्यकर्ताओं से इसके जवाब के लिए भी तैयार रहना चाहिए।’

हुई झड़प

इससे पहले घोष और पार्टी के कार्यकर्ताओं की पुलिसकर्मियों के साथ झड़प हुई कार्यकर्ताओं ने घोष की गाड़ी को जाने देने के लिए पुलिसकर्मियों को धक्का दिया। पुलिस ने हालांकि इस संबंध में कुछ भी कहने से इनकार किया। कोलकाता के महापौर और राज्य के मंत्री फिरहाद हकीम ने कहा कि भाजपा राहत सामग्री को बांटने में भी राजनीति करने पर तुली हुई है।

इससे पहले शुक्रवार को घोष ने केंद्र सरकार से पीड़ितों के अकाउंट में सीधे रुपये डालने का आग्रह किया था  
शुक्रवार को प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि केंद्र सरकार अम्फान पीड़ितों के अकाउंट में सीधे रुपये पहुंचाये। इसे लेकर दिलीप घोष ने कहा कि आइला व बुलबुल के समय राज्य सरकार द्वारा राहत सामग्री दिये जाने के दौरान काफी धांधली की गयी थी। इधर, बिजली व पानी की मांग पर वि​भिन्न स्थानों पर हुए प्रदर्शन को लेकर दिलीप घोष ने कहा कि इस प्रदर्शन से यह साबित होता है कि सत्ताधारी पार्टी लोगों की उम्मीदों पर खरा उतरने में फेल हुई है। वहीं दिलीप घाेष के बयान का जवाब देते हुए राज्य के मंत्री फिरहाद हकीम ने कहा, ‘जब दो बड़े लाेग (प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री) बात कर रहे हों तो बच्चों को चुप रहना चाहिए।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

मेंडिस की कार की टक्‍कर से बुजुर्ग की मौत, गिरफ्तार हुए

कोलंबो : श्रीलंका के क्रिकेटर कुसाल मेंडिस को रविवार को गिरफ्तार किया गया जब उनकी गाड़ी से टकराकर एक साइकिल सवार की मौत हो गई। आगे पढ़ें »

क्विंटन दूसरी बार बने क्रिकेटर ऑफ द ईयर, महिलाओं में लॉरा सर्वश्रेष्ठ

जोहानसिबर्ग : दक्षिण अफ्रीका के सीमित ओवरों के क्रिकेट कप्तान क्विंटन डिकॉक को क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) के वार्षिक पुरस्कार समारोह में साल का सर्वश्रेष्ठ आगे पढ़ें »

ऊपर