बाबुल के गाने पर मचा बवाल, चुनाव आयोग ने किया शाे कॉज

कोलकाता : केंद्रीय मंत्री व आसनसोल के सांसद बाबुल सुप्रियो द्वारा रिकॉर्डिंग किये गये भाजपा के चुनाव प्रचार गाने काे लेकर बवाल मच गया है। इसे लेकर बाबुल सुप्रियो के खिलाफ आसनसोल थाना में शिकायत दर्ज करवाये जाने के साथ ही बाबुल की शिकायत राज्य चुनाव आयोग के पास भी की गयी है। लोकसभा चुनाव में प्रचार के लिए सत्ताधारी पार्टी पर आरोप लगाते हुए बाबुल सुप्रियो ने भाजपा का यह थीम सांग गाया है।
आसनसोल द​क्षिण पुलिस थाना में एक संस्था कोऑर्डिनेशन कमेटी की ओर से बाबुल सुप्रियो के खिलाफ शिकायत दर्ज करवायी गयी है। दर्ज शिकायत में आरोप लगाया गया है कि बाबुल सुप्रियो अपने चुनाव प्रचार के गाने के माध्यम से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और तृणमूल के खिलाफ गलत प्रचार किये जा रहे हैं। साथ ही आरोप लगाया गया है कि बाबुल के गाने को सोशल मीडिया ट्वीटर, फेसबुक पर वायरल कर तृणमूल के खिलाफ झूठी बातें फैलायी जा रही हैं। इधर, बाबुल के इस गाने को लेकर राज्य चुनाव आयाेग के पास भी शिकायत की गयी है। इसे लेकर राज्य चुनाव आयोग ने बाबुल सुप्रियो को शो कॉज कर उनसे 48 घण्टों के अंदर जवाब मांगा है। राज्य चुनाव आयोग के अतिरिक्त चुनाव अधिकारी संजय बसु ने कहा कि सोशल मीडिया पर बाबुल का वीडियो पोस्ट किया गया और चुनाव आयोग की अनुमति के बगैर कुछ स्थानीय टीवी चैनलों में इसे दिखाया भी गया। उन्होंने कहा, ‘हमारे मीडिया वॉच विभाग ने गाने को सोशल मीडिया पर और कुछ टीवी चैनलों पर भी देखा। तृणमूल की ओर से भी इसे लेकर शिकायत की गयी है। हमने जांच कर पाया कि आयोग से सर्टिफिकेशन के बगैर ही इसे सोशल मीडिया पर दिखाया जा रहा है।’ इधर, अपने गाने को लेकर हुए विवाद के संबंध में बाबुल सुप्रियो ने कहा है कि सभी को अभिव्यक्ति की आजादी है। उन्होंने कहा कि वह चुनाव आयोग को इसका जवाब जरूर देंगे। उन्होंने कहा कि पक्षपातपूर्ण शिकायत से कुछ फर्क नहीं पड़ता है। गाने में जो भी मैंने कहा है, वह सब सच है। तृणमूल और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के विरोध में विपक्षी पार्टियां बोलेंगी ही। हालांकि मैं गाने में से कुछ लाइनें बदलने की कोशिश करूंगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Jagdip Dhankhar

धनखड़ के खिलाफ विधान सभा से संसद तक मोर्चाबंदी

कोलकाता : ऐसा पहली बार हुआ है जब विधानसभा में सत्ता पक्ष ने धरना दिया। कारण थे राज्यपाल जगदीप धनखड़, जिन पर विधेयकों को मंजूरी आगे पढ़ें »

मेरे कंधे पर बंदूक रखकर चलाने की को​शिश न करें – धनखड़

कोलकाता : राज्यपाल जगदीप धनखड़ और तृणमूल सरकार के बीच संबंधों में मंगलवार को और खटास आ गयी जब उन्होंने ‘कछुए की गति से काम आगे पढ़ें »

ऊपर