बस देख लोग ऐसे दौड़े मानों सड़क पर कीमती सामान दिखायी दे दिया हो

सन्मार्ग संवाददाता, कोलकाता : आज राज्य भर में पूर्ण लॉकडाउन है। आज एक बार फिर पूरा महानगर सुनसान हो जाएगा। ऐसे में लॉकडाउन की पूर्व संध्या पर बुधवार को लोग जल्दी से जल्दी कार्यालय से अपने घर पहुंचना चाहते थे। ऐसे में बसों को देखकर लोग ऐसे दौड़ते हुए दिखे जैसे कोई कीमती सामान बंट रहा हो। शाम 5 बजे के बाद एस्प्लानेड समेत आस – पास के बस स्टैंडों पर लोग बसों का इंतजार करते हुए दिखायी दिये। हालांकि बसों की संख्या कम हो जाने के कारण लोगों को बसें मिलने में काफी परेशानी हुई।
कांचरापाड़ा की बस के लिए घंटों इंतजार
अशोक राम, बेबी साव जैसे कई लोग कांचरापाड़ा जाने वाली बस रूट में एस्प्लानेड में बसों का इंतजार करते हुए दिखे। यहां मौजूद लोगों ने कहा कि कांचरापाड़ा की बस के लिए वे पिछले डेढ़ – दो घंटे से इंतजार कर रहे हैं। वहीं इनमें से कई लोग बैरकपुर जाने वाली बस की कतार में खड़े हो गये ताकि पहले बैरकपुर तक ताे पहुंच सके। फिर वहां से आगे का कुछ और सोच सकते हैं। इसी तरह बेलघरिया से आने वाली पायल भट्टाचार्य ने कहा, काफी समस्या होती है। रोजाना ऑफिस आने और फिर घर जाने के लिए 1 घंटे का इंतजार करने के बाद बस मिलती है। परिवहन की हालत काफी खराब है।
25% बसें ही उतर रही हैं कोलकाता में
कोलकाता की सड़कों पर फिलहाल 25% बसें ही उतर रही हैं ​जिस कारण लोगों को रोजाना ऑफिस आने – जाने में समस्या का सामना करना पड़ रहा है। वहीं आज लॉकडाउन के कारण बसें भी सड़कों पर नहीं उतरेंगी।
बस में चढ़ने के लिए भूले सोशल डिस्टेंसिंग
बसें काफी कम संख्या में चलने के कारण लोगों की झुंझलाहट साफ नजर आ रही थी। ऐसे में जब घंटों के इंतजार के बाद बसें आ रही थीं तो निश्चित तौर पर सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान लोग नहीं रख पा रहे थे। बसों में चढ़ने की जबरदस्त होड़ लोगों में देखी गयी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

लगभग पांच महीने के बाद स्क्वाश खिलाड़ियों ने शुरू किया अभ्यास

चेन्नई : भारत की शीर्ष महिला स्क्वाश खिलाड़ी जोशना चिनप्पा ने कोविड-19 महामारी के कारण लगभग पांच महीने के बाद सोमवार को भारतीय स्क्वाश अकादमी आगे पढ़ें »

थॉमस और उबेर कप बैडमिंटन फाइनल्स में भारत को मिला आसान ड्रा

नयी दिल्ली : भारत को डेनमार्क के आरहूस में तीन से 11 अक्टूबर तक होने वाले थॉमस और उबेर कप बैडमिंटन फाइनल्स में आसान ड्रा आगे पढ़ें »

ऊपर