बड़ाबाजार में कोरोना संक्रमण की जड़ बन सकता है एक परिवार

यह बैरिकेड है बेमानी, इसे लांघ कर कोई भी जा सकता है
दीपक रतन मिश्रा,कोलकाता : एशिया के सबसे बड़े थोक व्यवसाय के बाजार पर इन दिनों कोरोना संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है। बड़ाबाजार इलाके में अब तक 8 से अधिक कोरोना संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। अब तक बड़ाबाजार के दो लोगों की मौत भी हो गई है। प्रशासन की ओर से बड़ाबाजार के कई इलाकों को सील कर दिया गया है। हालांकि पोस्ता के शिव ठाकुर लेन में रहनेवाला एक परिवार पुलिस और स्थानीय लोगों के लिए सिर दर्द बन गया है। दरअसल इस परिवार का एक सदस्य कोरोना पॉजिटिव होने के कारण एम आर बांगुर अस्पताल में इलाजरत है। हालांकि परिवार के आठ सदस्यों को स्वास्थ्य अधिकारियों ने क्वारंटाइन सेंटर में भेजने की जगह उन्हें होम क्वारंटाइन में रखा है। असल समस्या की शुरुआत यहीं से होती है। इधर , शिव ठाकुर लेन में कोरोना का मरीज मिलने के बाद से पुलिस ने इलाके को सील कर दिया है। उक्त गली के लोगों को बेवजह घर से बाहर निकलने से मना किया गया है।
एक घर से दूसरे घर में घूम रहे हैं परिवार के लोग
पुलिस और स्थानीय सूत्रों के अनुसार उक्त परिवार के सदस्य शिव ठाकुर लेन के दो अलग मकान में रहते हैं। इसके अलावा हरिराम गोयनका स्ट्रीट में उनका एक और मकान भी है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा होम क्वारंटाइन सेन्टर में भेजे जाने के बावजूद घर के लोग घर मे रहने की जगह एक घर से दूसरे घर मे जा रहे हैं। कभी वह लोग शिव ठाकुर लेन के दूसरे मकान में जाते हैं तो कभी हरिराम गोयनका स्ट्रीट के मकान में। कई बार विभिन्न समान खरीदने के नाम पर बाहर निकलते हैं। कई बार पुलिस और स्थानीय लोगों द्वारा उक्त परिवार के सदस्यों को बाहर निकलने से मना किया गया लेकिन वो लोग किसी की बात नहीं सुन रहे हैं । सूत्रों के अनुसार घटना को लेकर पुलिस ने निगम और स्वास्थ्य अधिकारियों से उन लोगों को क्वारंटाइन सेन्टर ले जाने की अपील की है, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। पुलिस सूत्रों के अनुसार एक परिवार की लापरवाही पूरे इलाके के लोगों पर भारी पड़ सकती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वेस्टइंडीज जीत के करीब, इंग्लैंड ने दूसरी पारी में 313 रन बनाए

साउथैम्पटन : इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में वेस्टइंडीज जीत की ओर है। मैच के पांचवें दिन टी ब्रेक तक मेहमान टीम ने 4 विकेट के आगे पढ़ें »

पगबाधा का फैसला सिर्फ और सिर्फ डीआरएस से हो : तेंदुलकर

नयी दिल्ली : महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अंपायरों के फैसलों की समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को ‘अंपायर्स कॉल’ को हटाने आगे पढ़ें »

ऊपर