बंगाल से खड़े हो सकते हैं अमित शाह

टार्गेट 22 को पूरा करने के लिए भाजपा और कई नामी नेताओं को उतार सकती है बंगाल से

कोलकाता : इस बार के लोकसभा चुनाव में पूर्वोत्तर भारत परभाजपा की विशेष नजर है। यहां से अधिकांश सीटों को जीतने के लिए भाजपा नेतृत्व कई बड़े नेताओं को चुनावी महासमर में उतार सकता है। ऐसे में प्रबल संभावना जतायी जा रही है कि भाजपा के कई हेवीवेट नेता इस बार देश के उत्तर – पूर्वी राज्यों में चुनाव के लिए उतर सकते हैं। राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बंगाल से उम्मीदवार होने की खबरें जोरों पर हैं। कहा तो यहां तक जा रहा है वह उत्तर कोलकाता या हावड़ा से चुनाव लड़ सकते हैं। यह टार्गेट 22 का हिस्सा बताया जा रहा है। यानी भाजपा ने बंगाल से 22 लोकसभा सीटों पर जीत का टार्गेट बनाया है। अगर अमित शाह जैसे बड़े नेता यहां से खड़े होते हैं तो अन्य उम्मीदवारों और प्रचार को भी काफी बल मिलेगा।

उत्तर कोलकाता या हावड़ा ही क्यों

गत लोकसभा चुनाव में भले ही भाजपा उत्तर कोलकाता से नहीं जीत पायी थी, लेकिन पार्टी ने अच्छा परिणाम किया था। सोमेन मित्रा और माकपा की रूपा बागची जैसे उम्मीदवारों को भी राहुल सिन्हा ने पीछे छोड़ दिया था। भाजपा का मानना है ​कि इस बार परिस्थिति पिछली बार की तुलना में काफी बेहतर है। उत्तर कोलकाता और हावड़ा में काफी हिन्दी भाषी वोट हैं और अमित शाह जैसे उम्मीदवार होंगे तो स्थितियां काफी बदल सकती हैं।

क्यों सुना जा रहा है आसनसोल का नाम

आसनसोल से गत लोकसभा चुनाव में भाजपा को जीत मिली थी और आसनसोल में भी काफी संख्या में हिन्दीभाषी हैं। यहां वोटों का ध्रुवीकरण होने की काफी संभावना है।

कई सीटों पर नामों को लेकर चल रही है चर्चा

लोकसभा चुनाव के लिए कई उम्मीदवारों के नामों को लेकर पार्टी मुख्यालय में चर्चा चल रही है। कृष्णनगर से जहां शमिक भट्टाचार्य और जयप्रकाश मजूमदार के नाम सामने आ रहे हैं तो वहीं दिलीप घोष मिदनापुर से चुनाव लड़ सकते हैं। अगर आसनसोल से कोई और भाजपा का नेता खड़ा होता है तो वर्तमान सांसद बाबुल सुप्रियो पास के केंद्र बर्दवान – दुर्गापुर से लड़ सकते हैं। वहीं पुरुलिया से शायंतन बसु, बीरभूम से लॉकेट चटर्जी, बालुरघाट से देवश्री चौधरी, अलीपुरद्वार से मनोज टिग्गा चुनाव लड़ सकते हैं। अमित शाह के उम्मीदवार बनने को लेकर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि हम बंगाल के लिए अमित शाह को चाह सकते हैं, लेकिन अभी इस पर चर्चा नहीं हुई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कल्याणकारी योजना का लाभ दिए जाने में हुई गड़बड़ी शीघ्र होगी दूर : सीता सोरेन

दुमका : झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) की वरिष्ठ नेता और दुमका जिले में जामा की विधायक सीता सोरेन ने कहा कि पूर्व में अयोग्य लोगों आगे पढ़ें »

नक्सलियों को 15 लाख की लेवी देने जा रहा ठेकेदार गिरफ्तार

औरंगाबाद : बिहार में नक्सल प्रभावित औरंगाबाद जिले के अम्बावार तरी के निकट एक संदिग्ध वाहन से 15 लाख रुपये जब्त कर संवेदक समेत दो आगे पढ़ें »

ऊपर