प्लाज्मा थेरेपी के लिए शुरू हुई स्क्रीनिंग, अगले सप्ताह से हो सकेगा इलाज

सन्मार्ग संवाददाता,कोलकाता : कोलकाता मेडिकल कॉलेज और अस्पताल के इम्यूनोमैटोलॉजी और ब्लड ट्रांसफ्यूजन विभाग में संभावित प्लाज्मा डोनर्स की स्क्रीनिंग सोमवार से शुरू हो गई। अस्पताल सूत्रों ने बताया कि दो लोगों ने प्लाज्मा थेरेपी पर नैदानिक ​​परीक्षण के लिए ब्लड दिया। यह पहला कदम है, जिस पर कई कोरोना संक्रमण के इलाज के रूप में उम्मीद जगा रहे हैं। डॉ. प्रसून भट्टाचार्य ने कहा कि प्लाज्मा दान करने की अपील पर भारी प्रतिक्रिया हुई है। हम उनमें से 2 लोगों पर प्रयोग की उम्मीद कर रहे हैं। ट्रांसलेटेशन रिसर्च यूनिट ऑफ एक्सिलेंस ऑफ इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ केमिकल बायोलॉजी कोलकाता के वैज्ञानिक भी इसका हिस्सा हैं। आने वाले दिनों में और भी लोगों की स्क्रीनिंग की जाएगी। कई मरीजों का इलाज बेलियाघाटा जनरल (आईडी एंड बीजी) अस्पताल में किया गया था। इसमें काफी मरीज प्लाज्मा थेरेपी में सहयोग को तैयार हैं। प्रतिरक्षा और सीरम प्रोटीन जैसे कुछ मार्करों के लिए प्लाज्मा का विश्लेषण किया जाएगा। दानदाताओं को प्लाज्मा दान करने के लिए पर्याप्त प्रोटीन और कैल्शियम की आवश्यकता होती है। मूल परीक्षण आईडी अस्पताल में होगा। अस्पताल सूत्रों ने बताया कि करीब 40 से अधिक दाताओं ने स्क्रीनिंग से गुजरने में रुचि दिखाई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में कोरोना के 1390 आये नये मामले

कोलकाता : वेस्ट बंगाल कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पश्चिम बंगाल में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 1390 नये मामले सामने आये आगे पढ़ें »

भारत में अल्पपोषित लोगों की संख्या छह करोड़ घटकर 14 प्रतिशत पर पहुंची : संयुक्त राष्ट्र

संयुक्त राष्ट्र : भारत में पिछले एक दशक में अल्पपोषित लोगों की संख्या छह करोड़ तक घट गई है। संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट में आगे पढ़ें »

ऊपर