पोर्ट इलाके का नादियाल बना रणक्षेत्र, बिजली-पानी के लिए जम कर पथराव

दक्षिण कोलकाता सबसे अधिक प्रभावित, विधायक घायल
सन्मार्ग संवाददाता,कोलकाता : मंगलवार को महाचक्रवात अम्फान के 6 दिन बीत जाने के बावजूद अब तक कोलकाता के कई जगहों पर बिजली और पानी सेवा सामान्य नहीं हुई है। इस कारण लोगों में काफी रोष है। वहीं मंगलवार को भी कोलकाता के कई जगहों पर बिजली और पानी की मांग पर प्रदर्शन जारी रहा। उत्तर कोलकाता में कहीं से प्रदर्शन की खबर नहीं आयी, लेकिन दक्षिण कोलकाता के कई हिस्साें में लोगों ने प्रदर्शन किया। एक तरफ निगम पूरा ठीकरा सीईएससी पर फोड़ने में लगा है तो दूसरी तरफ, सीईएससी रास्ते से पेड़ों के नहीं हटाये जाने के बहाने बना रहा है। हालांकि इन सबके बीच अगर कोई पिस रहा है तो वह है आम जनता। इस बीच, नादियाल के कांचनतल्ला इलाके में प्रदर्शन कर रहे लोगों के बीच पहुंचे तृणमूल विधायक का लोगों के हमले में माथा फट गया। विधायक को सीएमआरआई अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

सड़क अवरोध के दौरान गरमाया मामला

बिजली और पानी की मांग पर नदियाल के कांचनतला में स्थानीय लोग प्रदर्शन कर रहे थे। इस दौरान तृणमूल विधायक अब्दुल खालिक मोल्ला लोगों को समझाने के लिए पहुंचे। हालांकि इस दौरान मामला बिगड़ गया और लोगों ने पथराव करना शुरू कर दिया। पुलिस की ओर से भी पत्थर फेंके जाने का आरोप है। इस दौरान ईंट के हमले में तृणमूल विधायक का माथा फट गया। लोगों का आरोप है कि 6 दिनों से इलाके के केवल एक ​हिस्से में बिजली आयी जबकि बाकी के हिस्से अंधेरे में हैं। इधर, घटना की सूचना पाकर डीसी पोर्ट सैयद वकार राजा समेत भारी संख्या में पुलिस और रैफ के जवान मौके पर पहुंचे।

इन इलाकों में हुआ प्रदर्शन

मंगलवार को दक्षिण कोलकाता के बाघाजतीन स्थित श्री कॉलोनी, नेताजी नगर, गरफा, बेहला के सेनहाटी, बांसद्रोणी, आशुतोष पल्ली के अलावा हुगली जिले के शेवड़ाफुली समेत अन्य स्थानों पर बि​जली और पानी की मांग पर प्रदर्शन किया गया।गत 5 दिनों की तुलना में मंगलवार को कोलकाता के विभिन्न इलाकों में छिटपुट प्रदर्शन हुआ। गरिया और बेहला में प्रदर्शनकारियों ने उखड़े हुए पेड़ों की सहायता से सड़क अवरोध करने के साथ ही बैरिकेड लगा दिये।

पूर्व पार्षद का घेराव, समर्थक की पिटायी

अब तक बिजली और पानी नहीं आने के कारण लोगों में रोष इतना अधिक बढ़ गया है कि जनप्रतिनिधि भी अब जनता के गुस्से का शिकार हो रहे हैं। गरफा इलाके में प्रदर्शन कर रहे लोगों से मिलने आये पूर्व पार्षद का स्थानीय लोगों ने घेराव कर दिया। वहीं पूर्व पार्षद के समर्थक की पिटायी भी लोगों ने की।

क्या कहना है लोगों का

गरिया इलाके के रहने वाले एक व्यक्ति ने कहा, ‘6 दिन बीत चुके हैं, लेकिन अब भी हमारे इलाके में बिजली नहीं आयी है। हमें नहीं पता कि सेवाएं कब सामान्य होंगी।’ लोगों ने सीईएससी पर आरोप लगाते हुए दावा किया कि उनकी ओर से कोई इलाके में नहीं आया। एक अन्य व्यक्ति ने कहा, ‘हमने स्थानीय प्रशासन और पुलिस स्टेशन से बात कर अपनी समस्याएं उन्हें बतायी हैं। अब तक किसी की तरफ से हमें कोई मदद नहीं मिली।’

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

वेस्टइंडीज जीत के करीब, इंग्लैंड ने दूसरी पारी में 313 रन बनाए

साउथैम्पटन : इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में वेस्टइंडीज जीत की ओर है। मैच के पांचवें दिन टी ब्रेक तक मेहमान टीम ने 4 विकेट के आगे पढ़ें »

पगबाधा का फैसला सिर्फ और सिर्फ डीआरएस से हो : तेंदुलकर

नयी दिल्ली : महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अंपायरों के फैसलों की समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को ‘अंपायर्स कॉल’ को हटाने आगे पढ़ें »

ऊपर