तृणमूल पार्षद के घर लाखों की डकैती

डकैतों के हमले में 3 घायल
पुरुलिया : जिले के झालदा 2 नम्बर वार्ड पार्षद तृणमूल कांग्रेस के बॉबी कान्दू के निवास में शुक्रवार शाम फार्म पर हस्ताक्षर करवाने के बहाने 6 डकैतों का 1 दल घुस गया और पिस्तौल की नोक पर 50 हजार रुपए नगदी समेत लाख से अधिक रुपए के जेवरात लेकर भागने में सफल रहे। वहीं डकैतों के महले में 3 लोग जख्मी हो गये हैं। घटना के बाद झालदा पुलिस घटना स्थल पर पहुंचकर तहकीकात में जुट गई। जानकारी के अनुसार पुरुलिया-रांची रोड बिरसा मोड़ स्थित झालदा 2 नम्बर वार्ड पार्षद तृणमूल कांग्रेस बॉबी कान्दू के घर में शुक्रवार शाम लगभग 6 बजे सर्वप्रथम 2 युवक यह कहकर घुसे कि उन्हें फार्म में हस्ताक्षर करवाना है। इस बीच और 4 युवक घर में घुस गये। इसके बाद डकैतों ने पिस्तौल की नोक पर लूट-पाट शुरू कर दी। इस बीच बॉबी के पुत्र राजू कान्दू पहुंच गया, साथ ही कुछ मिनटों बाद बॉबी के पति नरेन कान्दू भी वहां पहुंच गये जहां डकैतों ने पिस्तौल के बट से उनके माथे पर वार कर दिया। इस हमले में बॉबी, राजू तथा नरेन कान्दू घायल हो गये। इसके बाद डकैतों ने सभी को पिस्तौल की नोक पर एक तरफ कर दिया। वहीं डकैतों ने संदूक से 50 हजार रुपए नकदी सहित 50 हजार रुपए के जेवरात लेकर चम्पत हो गये। भुक्तभोगियों का कहना है कि डकैत सोने की 1 अंगूठी, चेन सहित सोने-चांदी के कुछ गहने ले गये हैं। डकैतों के मुंह पर पट्टी बंधी हुई थी। घटना के बाद जिले के अस्पताल में घायल व्यक्तियों का इलाज करवाया गया। घटना की खबर पाकर झालदा नगर पालिका के चैयरमैन प्रदीप कर्मकार तथा तृणमूल कांग्रेस के सभापति देवाशीष सेन पहुंच गये और प्रशासन के प्रति विरोध प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि इससे पूर्व झालदा में चोरी की घटनाओं में वृद्धि हुई है और अब डकैती हो रही है। वहीं स्थानीय लोगों ने पुलिस उनकी सुरक्षा की मांग की। समाचार लिखे जाने तक अपराधियों का कोई सुराग नहीं मिल पाया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार !

बजट कार्यालय ने व्यक्त किया अनुमान वाशिंगटनः अगले वित्त वर्ष में अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार जाने की आशंका है। यह आगे पढ़ें »

new zealand speaker

न्यूजीलैंड : संसद में रो रहे बच्चे को स्पीकर ने पियाला दूध, लोगों ने की सराहना

वेलिंगटन : न्यूजीलैंड के संसद भवन में स्पीकर ट्रेवर मलार्ड ने एक सांसद के बेटे को दूध पिलाया। मालूम हो कि संसद भवन में आमतौर आगे पढ़ें »

ऊपर