पश्चिम बंगाल के तृणमूल विधायक तमोनश घोष का निधन

कोलकाता : पश्चिम बंगाल के फाल्टा से तृणमूल कांग्रेस के विधायक तमोनश घोष का कोरोना संक्रमण के बाद कई अंगों के काम करना बंद कर देने के कारण बुधवार तड़के कोलकाता के एक अस्पताल में निधन हो गया। वह 60 वर्ष के थे।  घोष का मई में कोरोना पॉजिटिव परीक्षण किया गया था और उन्हें अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया था। कालीघाट निवासी  घोष के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था जिसके कारण उनका निधन हो गया। पिछले तीन दिन से उनकी हालत गंभीर थी। घोष के निधन से राजनीतिक जगत में शोक की लहर दौड़ गयी है। घोष मई में कोरोना संक्रमित पाए गए थे। तब से उनका कोलकाता के एक अस्पताल में उपचार चल रहा था। वह दक्षिण 24 परगना के फालता विधानसभा से तीन बार विधायक बने थे। डॉक्टरों के अनुसार  घोष को पहले से दिल और गुर्दे समेत कई अन्य बीमारियां थीं। कोरोना वायरस होने के बाद से उनकी हालत लगातार बिगड़ती गई। वह पिछले कई दिनों से वेंटिलेटर पर थे।

ममता ने जताया शोक
पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ तृणमूल कांग्रेस के विधायक तमोनश घोष की बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के कारण मृत्यु हो गयी। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने तमोनश घोष की मृत्यु पर दुख व्यक्त करते हुए ट्वीट किया,’ बहुत, बहुत दुख की बात है। तमोनश घोष फालता से तीन बार के विधायक थे। वह 1998 से टीएमसी के कोषाध्यक्ष भी थे। उन्होंने आज हमारा साथ छोड़ दिया। वह गत 35 वर्षों से हम लोगों के साथ जुड़े थे। वह पार्टी और लोगों के लिए पूरी तरह समर्पित रहते थे। उन्होंने सामाजिक कार्यों में भी अपना बहुत योगदान दिया।’ वह 60 वर्ष के थे।बनर्जी ने कहा  घोष के निधन से हुई क्षति की भरपाई मुश्किल है। उन्होंने कहा, ‘हम सबकी तरफ से उनकी पत्नी झरना, दो बेटियों, मित्रों और सभी शुभचिंतकों के प्रति हार्दिक संवेदना।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

ओडिशा में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में चार माओवादी मारे गए

भुवनेश्वर : ओडिशा में कंधमाल जिले के एक घने जंगल में रविवार को सुरक्षाबलों के साथ हुई मुठभेड़ में करीब चार माओवादी मारे गए। पुलिस आगे पढ़ें »

अब ‘मोबाइल डाटा’ होगा चीन का हथियार : विशेषज्ञ

नई दिल्ली : चीन की कम्युनिस्ट पार्टी और उसकी सैन्य शाखा मोबाइल नेटवर्क और एप के जरिये एकत्र किये जा रहे भारतीयों के डाटा का आगे पढ़ें »

ऊपर