पति को मुखाग्नि देने को लेकर दो सौतों में विवाद

सांसद की हस्तक्षेप से सुलझा विवाद
सन्मार्ग संवाददाता,कोलकाता : कोरोना के बढ़ते संक्रमण के कारण ऐसे ही महानगर वासी डरे हुए हैं। श्मशान घाट पर जाने वाले लोग भी कुछ ज्यादा ही भयभीत नजर आ रहे हैं। कुछ दिनों पहले केवड़ातल्ला श्मशान के बाहर एक शव पड़ा हुआ था। शव के पासबैठे लोग रो रहे थे। साथ ही दो युवक भी वहां बैठे थे। अचानक वहां पर दो महिलाओं के बीच झगड़ा होने लगा। दोनों महिलाएं क्यों झगड़ा कर रही हैं यह पता करने पर पता चला कि दोनों मृतक के पत्नी हैं। दोनों रिश्ते में सौतन हैं। शव के पास बैठे दोनों युवक सौतेले भाई है। दोनों महिला के बीच झगड़ा होते देख दोनों युवक एक दूसरे से मारपीट करने लगे। हालांकि झगड़े का कारण रपता करने पर पता चला कि कौन से पक्ष का लड़का मृतक को मुखाग्नि देगा, इसे लेकर उनके बीच झगड़ा हो रहा था।
क्या है पूरा मामला
लॉकडाउन के कारण श्मशान में लोगों की संख्या पहले ही प्रशासन ने नियंत्रित कर रखा है। शव का अंतिम संस्कार से पहले मुखाग्नि कौन देगा इसका फैसला करना होगा। कोरोना के कारण सभी लोग सोशल डिसटेंसिंग का पालन कर रहे हैं। ऐसे में झगड़ा कर रहे दोनों पक्ष को समझाने के बावजूद वे लोग नहीं मानें तो श्मशान के कर्मियों ने सांसद माला राय को फोन किया। सांसद ने दोनों पक्ष के दो-दो व्यक्ति को श्मशान के अंदर जाकर अंतिम संस्कार करने को कहा है। इसके बाद ही पुलिस की मौजूदगी में व्यक्ति का अंतिम संस्कार हुआ। इसके अलावा और एक दिन पति के अंतिम संस्कार के बाद दो महिलाएं डेथ सर्टिफिकेट लेने को लेकर आपस में झगड़ा करने लगी। प्रशासन नेे दोनों महिलाओं को एक-एक डेथ सर्टिफिकेट सौंप दिया ।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 300 अंक नीचे, बैंक, वित्त कंपनियों के शेयरों में गिरावट

मुंबई : वैश्वकि बाजारों में बिकवाली निकलने से बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का सेंसेक्स भी मंगलवार को कारोबार के शुरुआती दौर में 300 अंक से आगे पढ़ें »

शिक्षक राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार के लिये स्वयं को नामांकित करें: निशंक

नयी दिल्ली : केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने मंगलवार को शिक्षकों से राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार के लिये स्वयं को नामांकित करने और अपनी उपलब्धियों आगे पढ़ें »

ऊपर