निजी हॉस्पिटल ने मनमाना बिल बनाया, देनी पड़ी पेनाल्टी

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः एक निजी हॉस्पिटल के खिलाफ हेल्थ कमिशन में शिकायत पहुंची कि अस्पताल ने पीपीई किट सहित अन्य उपकरणों के नाम पर अतिरिक्त नॉन-मेडिकल बिल बना दिया है। इस पर कमिशन ने शुक्रवार को सुनवाई करते हुए अस्पताल पर 10 हजार रुपये की पेनाल्टी दिए जाने का निर्देश दिया। इस पैसे को कोविड उपचार के तहत मुख्यमंत्री राहत कोष में दे दिया जाएगा। द वेस्ट बंगाल क्लिनिकल इस्टेब्लिशमेंट रेग्युलेटरी कमिशन की ओर से हाल के दिनों में शिकायतों पर ऑनलाइन ही सुनवाई की जा रही है। इसी क्रम में कई शिकायतें बिलिंग को लेकर पहुंच रही हैं। द वेस्ट बंगाल क्लिनिकल इस्टेब्लिशमेंट रेग्युलेटरी कमिशन (डब्ल्यूबीसीईआरसी) के चेयरमैन जस्टिस असीम कुमार बनर्जी (अवकाश प्राप्त) ने कहा कि नॉन-मेडिकल बिल को लेकर शिकायतें बढ़ी हैं। आवश्यकता है कि लोग सही तरीके से वाजिब शिकायतों को लेकर पहुंचें।
सोशल मीडिया की शिकायत निकली फर्जी
दूसरी तरफ एक निजी अस्पताल के खिलाफ सोशल मीडिया पर भर्ती लिए जाने के दौरान 10 लाख रुपये मांगने संबंधी शिकायत आई थी। इस लेकर जस्टिस बनर्जी ने कहा कि जब जांच की गई तो यह शिकायत फर्जी निकली। शिकायतकर्ता ने भी इसे स्वीकार किया। हमारी अपील है कि लोग बेवजह फर्जी शिकायत सोशल मीडिया पर न करें। इससे समाज में गलत व भ्रामक संदेश जाता है। सही शिकायतों को सही माध्यम से कमिशन के पास लाएं।
प्रसूताओं को भर्ती लेने से इनकार न करें
जस्टिस बनर्जी ने कहा कि कोई भी अस्पताल या नर्सिंग होम प्रसूताओं की भर्ती से इनकार नहीं कर सकते हैं। इसके लिए सभी गाइनोकोलॉजिस्ट को इस सिलसिले में आवश्यक दिशा-निर्देश से अवगत कराने को कहा गया है। कुछ अस्पतालों के खिलाफ प्रसूताओं को भर्ती नहीं लिए जाने के मामले सामने आए हैं। ऐसे में ध्यान रखने की जरूरत है कि प्रसूताओं को किसी प्रकार की हैरानी का सामना न करना पड़े।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सेरेना विलियम्स फिट, छह महीने के ब्रेक के बाद खेलने को तैयार

लेक्सिंगटन (अमेरिका) : अमेरिका की 23 बार की ग्रैंडस्लैम चैम्पियन सेरेना विलियम्स अब पूरी तरह फिट हैं और छह महीने के ब्रेक के बाद टेनिस आगे पढ़ें »

लंबा नहीं चलेगा जसप्रीत बुमराह का करियर : शोएब अख्तर

इस्‍लामाबाद : पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर का कहना है कि जसप्रीत बुमराह प्रतिभावान गेंदबाज हैं, लेकिन अपने मुश्किल गेंदबाजी एक्शन के कारण आगे पढ़ें »

ऊपर