तृणमूल विधायक की सरेआम गोली मारकर हत्या

सरस्वती पूजा में शामिल होने गए थे
भरी भीड़ में मारी गयी गोली, हत्यारा फरार
सन्मार्ग संवाददाता
नदिया : कृष्णगंज के तृणमूल विधायक सत्यजीत विश्वास की सरेआम गोली मारकर हत्या कर दी गयी। वह सरस्वती पूजा में शामिल होने गए थे। घटना नदिया के माजदिया फूलबाड़ी इलाके में शनिवार की शाम घटी। स्थानीय सूत्रों के अनुसार शनिवार की शाम सत्यजीत माजदिया इलाके में आयोजित एक सरस्वती पूजा के कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे हुए थे । मंच पर जिला तृणमूल के अध्‍यक्ष गौरीशंकर दत्त, राज्य की मंत्री रत्‍ना कर घोष व अन्‍य बेड़े नेता भी थे। इन लोगों के जाने के बाद सत्‍यजीत मंच से उतर ही रहे थे कि प्वाइंट ब्लैंक रेंज से उन्हें गोलियों से भून दिया गया जिससे घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गयी। उनके सीने में गोलियां मारी गयीं थीं। शक्तिनगर अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित करने की औपचारिकता पूरी की। सूत्र बताते हैं कि जिस ओर से गोलियां मारी गयीं उस ओर महिलाओं की संख्या अधिक थी। एक चश्मदीदी के अनुसार कार्यक्रम लगभग खत्म होने वाला था तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम की तैयारी चल रही थी, तभी अचानक आवाज हुई तथा शोर मचा कि विधायक को गोली मार दी गयी है। हत्यारा भागते समय हथियार को पास के मैदान में फेंक कर भाग गया। हत्यारों की संख्या दो से अधिक होने की आशंका है। पुलिस ने घटनास्थल से हमले में इस्तेमाल देशी कट्टे को बरामद कर लिया है। इस मामले में देर रात तक दो लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। घटना को लेकर नदिया जिला तृणमूल कांग्रेस के अध्यक्ष गौरी शंकर दत्त ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि उसके इशारे पर ही विधायक की हत्या की गयी है। उन्होंने मुकुल राय का इसके पीछे हाथ होने का आरोप लगाया है। भाजपा ने इसका पुरजोर खंडन किया है तथा कहा कि यह तृणमूल की आपसी दुश्मनी का परिणाम है। इधर, इलाके में उत्तेजना का माहौल है। तृणमूल के वरिष्ठ नेता तथा राज्य के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने कहा कि हत्यारे को बख्शा नहीं जायेगा। जिला पर्यवेक्षक अणुव्रत मंडल ने कहा कि भाजपा ने इस घटना को अंजाम दिया है। वहीं भाजपा ने कहा कि अणुव्रत बीभरभूम से नदिया में अपनी तरह की संस्कृति लेकर आ रहे हैं। नदिया के पुलिस अधीक्षक रुपेश कुमार भी भारी पुलिस कर्मियों को लेकर घटनास्थल पर पहुंचे और स्थिति को नियंत्रित किया। पुलिस की ओर से हमलावरों को पकड़ने के लिए छापामारी अभियान चलाया जा रहा है। सीआईडी की टीम भी मौके पर पहुंच गयी है।
कर्ज लेकर शादी की थी सत्यजीत ने
कृष्णगंज के विधायक सत्यजीत विश्वास नदिया जिला मतुआ महासंघ उपदेष्टा कमेटी के सभापति थे। नोट बंदी के समय बैंक से कर्ज लेकर शादी किये थे। उनका तथा उनके भाई की एक ही दिन शादी हुई थी। नदिया जिला तृणमूल के सभापति गौरीशंकर दत्त ने बताया कि वह अस्वस्थ हैं, इसलिए कार्यक्रम समापन के कुछ पहले ही वे रवाना हो गये थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

5 फरवरी से भाजपा की रथ यात्रा, नड्डा करेंगे शुरुआत

फरवरी में शाह व नड्डा बंगाल में सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : आगामी 5 फरवरी से भाजपा पश्चिम बंगाल में अपनी रथ यात्रा की शुरुआत करने जा रही आगे पढ़ें »

धुपगुड़ी हादसा : केंद्र 2 तो राज्य देगा 2.5 लाख रुपये आर्थिक सहायता

राज्य सरकार की ओर से दी दिये जाएंगे 2.5 लाख रुपये सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : जलपाईगुड़ी के धुपगुड़ी में हुए दर्दनाक हादसे में 14 लोगों की मौत आगे पढ़ें »

ऊपर