देश में शान्ति और सौहार्द्र बनाये रखने की जरूरत : ममता

नयी दिल्ली : महात्मा गांधी अहिंसा के पक्षधर थे, उनके विचार और आदर्शों को आज भी जिंदा रखने के लिए जरूरी है कि देश मे शांति और सौहार्द्र बना रहे। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राष्ट्रपति भवन में महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती मनाने के लिए बनी कमेटी के साथ मुख्यमंत्रियों की बैठक में राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के समक्ष अपना सुझाव रखा। बैठक के बाद ममता ने संवाददाताओं को बताया कि सभी मुख्यमंत्री ने अपने अपने सुझाव दिये। किसी ने गांधी जी के नाम पर विश्वविद्यालय बनाने का प्रस्ताव दिया तो किसी की तरफ से यूनाइटेड नेशन में एक सेमिनार आयोजित करने का सुझाव दिया। इस बीच मैंने भी अपने विचारों को व्यक्त किया और कहा कि आगामी दिनों में शान्ति बनाने की जरूरत है। इस बैठक में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, अमित शाह, लाल कृष्ण आडवाणी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समेत अन्य वरिष्ठ नेता शामिल थे। इस बैठक में कांग्रेस की ओर से सोनिया गांधी या राहुल गांधी नहीं पहुंचे थे। कांग्रेस का प्रतिनिधित्व गुलाब नबी आजाद ने किया। ममता ने बताया कि राष्ट्रपति ने सभी से अपील की है कि गांधी जी के आदर्शो और फिलॉसफी को राजनीतिक दलों की और से लोगों तक पहुंचने में आगे बढ़े।

शेयर करें

मुख्य समाचार

thakre

वीर सावरकर देश के पहले प्रधानमंत्री होते तो नहीं होता पाकिस्तान का जन्म : उद्धव ठाकरे

मुंबई : शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को कहा कि ‌अगर वीर सावरकर इस देश के प्रधानमंत्री होते तो पाकिस्तान का जन्म भी नहीं आगे पढ़ें »

नई कारों को चलाने के शौकीन हैं तो अब यहां मिलेगी लीज पर कार

नई दिल्लीा : भारत में प्रीमियम कारों की अग्रणी विनिर्माता होंडा कार्स इंडिया लिमिटेड (एचसीआईएल) ने अपनी नई कार लीजिंग सर्विस को लॉन्च करने की आगे पढ़ें »

ऊपर