दिलीप के अमर्त्य पर किए बयान ने मचाया राजनीतिक बवाल

कोलकाता : प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष द्वारा नोबेल पुरस्कार से सम्मानित अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन पर दिए गए विवादित बयान ने राजनीति में नया बवाल मचा दिया है। तृणमूल कांग्रेस के महासचिव पार्थ चटर्जी ने घोष के बयान पर पहले ही प्रतिक्रिया देते हुए कह दिया है कि दिलीप घोष को राज्य की संस्कृति की जानकारी ही नहीं है। इसके प्रतिवाद में आज हाजरा मोड़ पर तृणमूल छात्र परिषद द्वारा प्रतिवाद रैली निकाली जाएंगी। वहीं अन्य विरोधी दल के नेताओं ने भी भाजपा के इस विवादित बयान पर कड़ा तेवर दिखाते हुए बयानबाजी शुरू कर दी है।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि दिलीप घोष की तरफ से ऐसी टिप्पणी कोई आचर्श्य की बात नहीं है। जब किसी व्यक्ति का दुनिया भर में आदर होता है और उन्हें सम्मानित किया जाता है तो दिलीप घोष उन पर सवाल उठाने वाले कौन होते हैं ?उनकी टिप्पणी ने उनमें आरएसएस की संस्कृति को साफ दिखा दिया है। वे दीनदयाल उपाध्याय, वीर सावरकर और महात्मा गांधी की हत्या करने वाले शख्स से आगे की नहीं सोच सकते।
उधर वाममोर्चा के वरिष्ठ नेता सूर्यकांत मिश्रा ने कहा कि भाजपा अमर्त्य सेन को लेकर कुछ भी कहे उससे कहीं कोई असर नहीं पड़ते वाला है। सेन ऐसी शख्सियत हैं जिन पर किसी भी बयानबाजी से उनका रुतबा कम नहीं होने वाला है।
माकपा सांसद मो. सलीम ने भी भाजपा अध्यक्ष के बयान की निंदा करते हुए दिलीप घोष से उल्टे सवाल किया है कि पहले वह बताएं कि उन्होंने राज्य को क्या दिया है जिससे उनका यहां सम्मान बढ़े। हालांकि अमर्त्य सेन ने दिलीप घोष की टिप्पणी पर कहा कि मुझे कोई आपत्ति नहीं है, घोष के मन के भाव थे जो उन्होंने कह दिया। घोष ने सेन के योगदान पर सवाल उठाते हुए कहा था कि उन्होंने एक बंगाली होते हुए नोबेल पुरस्कार जीता है जिसपर हमें गर्व है लेकिन उन्होंने राज्य के लिए क्या किया?

मेरे बयान को एडिट किया गया है : दिलीप

मेरे बयान को एडिट करके दिखाया गया है, मैंने किसी का अपमान नहीं किया। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने शनिवार को नोबेल पुरस्कार से सम्मानित अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन पर की गयी टिप्पणी पर सफाई देते हुए साफ कहा कि मेरी किसी से निजी दुश्मनी नहीं है। न ही मैंने किसी का नाम लेकर कुछ कहा है, हां नोबेल पुरस्कार का जिक्र मैंने जरूर किया था क्योंकि समाज में लोग सबसे ज्यादा शिक्षाविदों का आदर और सम्मान करते हैं। मैंने इस समाज के लिए ऐसे पुरस्कृत शिक्षाविदों को आवाज उठाने के लिए कहा ताकि आने वाले समय में राज्य की सांस्कृति और शिक्षा का स्तर कम न हो। दिलीप ने कहा कि आज राज्य में शिक्षा और संस्कृति का स्तर कहां से कहां चला गया है। स्कूलों में सरस्वती पूजा नहीं हो रही है। दुर्गापूजा के विसर्जन के लिए कोर्ट में जाना पड़ रहा है। शिक्षक जहां-तहां किसी के भी हाथों पीटे जा रहे हैं। इन सभी में हमारे राज्य के ऐसे महान शिक्षाविदों की भूमिका क्या है। राज्य पीछे जा रहा है और वह खामोश हैं। हालात ऐसे ही रहे तो भविष्य में बंगाल से दूसरा अमर्त्य सेन या अन्य महान शिक्षाविद पैदा नहीं होगा। मैंने अपने भाषण में ऐसे शिक्षाविदों की भूमिका पर सवाल उठाते हुए साफ उल्लेख किया है कि क्या वह सरकार से डरते हैं या पुरस्कार के मोह में आकर चुप्पी साधे हुए हैं।

मुख्य समाचार

भाटपाड़ा में बमबारी जारी, 1 मरा

सर्च अभियान चलाकर पुलिस ने किये 6 बम बरामद भाटपाड़ा : भाटपाड़ा थानांतर्गत 10 नं. गली के रामनगर कॉलोनी में बम विस्फोट होने से एक व्यक्ति आगे पढ़ें »

नए कोच के चयन में नहीं चलेगी विराट की मनमानी

नयी दिल्ली : टीम इंडिया का नया मुख्‍य कोच कौन होगा इस पर फैसला कुछ समय बाद लिया जाएगा। पर बीसीसीआई के एक अधिकारी ने आगे पढ़ें »

कृषि क्षेत्र में विकास के लिए केंद्र और राज्यों को मिलकर करना होगा काम

नई दिल्ली: केंद्र सरकार को कृषि क्षेत्र में सुधार के साथ राज्यों को वित्त आयोग द्वारा किए गए अनुदान और आवंटन को जोड़ना चाहिए। यह आगे पढ़ें »

2018-19 में डिजिटल ट्रांजेक्शन 51 फीसदी बढ़ी, कुल डिजिटल ट्रांजेक्शन 3,133.58 करोड़ के पार पहुंचा

नई दिल्ली : देश में डिजिटल ट्रांजेक्शन तेजी से बढ़ रहा है। वर्ष 2018-19 में डिजिटल ट्रांजेक्शन पिछले साल की तुलना में 51 फीसदी बढ़ी आगे पढ़ें »

निजी क्षेत्र और उपक्रमों को बढ़ावा देकर आर्थिक वृद्धि की रफ्तार तेज करना चाहती है सरकार

नई दिल्ली : केंद्र सरकार निजी क्षेत्र और निजी उपक्रमों को बढ़ावा देकर आर्थिक वृद्धि की रफ्तार बढ़ाने पर जोर दे रही है। इस बारे आगे पढ़ें »

सिंधू का दमदार प्रदर्शन, इंडोनेशिया ओपन के क्वार्टर फाइनल में पहुंची

जकार्ता : भारत की चोटी की शटलर पीवी सिंधू ने डेनमार्क की मिया बिलिचफेल्ट के खिलाफ तीन गेम तक चले संघर्षपूर्ण मैच में जीत दर्ज आगे पढ़ें »

fire in an animation studio in japan, 24 dead

एनिमेशन स्टूडियो में लगायी आग, 24 जिंदा जले

टोक्यो : जापान के क्योटो शहर में गुरुवार सुबह एक एनिमेशन स्टूडियो में आग लगने से 24 लोग जिंदा जल गए जबकि 35 से अधिक आगे पढ़ें »

ऐसे उठा सकते हैं एनपीएस में छुट का लाभ

नई दिल्ली : नेशनल पेंशन योजना (एनपीएस) ने ईपीएफओ से कहीं ज्यादा रिटर्न दिया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक बीते 10 साल में केंद्रीय और आगे पढ़ें »

teachers enclosing legislative assembly lathi charged by the police

विधानसभा का घेराव करने पहुंचे शिक्षकों पर पुलिस ने किया लाठीजार्च

पटना : वेतनमान समेत सात सूत्रीय मांगों को लेकर गुरुवार को राजधानी पटना में विधानसभा का घेराव करने पहुंचे नियोजित शिक्षकों पर पुलिस ने जमकर आगे पढ़ें »

Government told - cases of rape are increasing in trains

सरकार ने बताया – ट्रेनों मे लगातार बढ़ रहे है दुष्कर्म के मामले

नई दिल्ली : देश की सड़कों-गलियों में तो बहू-बेटियां सुरक्षित थी ही नहीं, अब यात्रा के लिए सबसे सुरक्षित मानी जाने वाली ट्रेनों में भी आगे पढ़ें »

ऊपर